हरिद्वार में जांच के बाद 1063 लोग उत्तर प्रदेश रवाना, प्रदेश में फंसे लोगों को गृह मंत्रालय के आदेश के बाद पहले चरण में भेजें गए

हरिद्वार । हरिद्वार समेत पूरे गढ़वाल के रिलीफ कैंपों में रुके 1063 लोगों को शनिवार को हरिद्वार से यूपी रवाना किया गया। पहले इन लोगों को हरिद्वार के भगवानपुर तक भेजा गया। यहां से सभी को उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों के लिए भेजा गया। यूपी परिवहन निगम की बसें बॉर्डर तक पहुंचीं, जहां से लोगों को भेजा गया। इससे पहले सभी की जांच भी की गई। पिछले करीब 42 दिनों से हरिद्वार समेत पूरे प्रदेश में फंसे लोगों को गृह मंत्रालय के आदेश के बाद पहले चरण में रिलीफ कैंपों में रुके लोगों को भेजा गया है। यूपी और उत्तराखंड सरकार के बीच तालमेल के बाद लोगों को भेजा गया। हरिद्वार से 673, देहरादून 289, पौड़ी 61, उत्तरकाशी 18 और चमोली 22 के लोगों को भेजा गया। बाहरी जिलों से आए लोग शुक्रवार की रात को भूपतवाला स्थित शिवा फार्म में पहुंच गए थे। शनिवार सुबह एक बार सभी की जांच की गई। बसों को सेनेटाइज किया गया। साथ ही शिवा फार्म और आसपास के इलाके को भी सेनेटाइज किया गया। हरिद्वार प्रशासन ने भगवानपुर काली नदी तक लोगों को भेजा। यहां एक भवन से सभी को अलग-अलग बसों में बैठाया गया। यूपी सरकार की ओर से 45 बसों की व्यवस्था की गई थी। सोशल डिस्टेंस को ध्यान में रखते हुए एक बस में करीब 25 लोगों को भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *