पेट की गैस और अपच से परेशान हैं तो एक्सपर्ट के सुझाए इन 5 आयुर्वेदिक नुस्खे को आज़माएं

हमारा लाइफस्टाइल और हमारे खान-पान की आदत हमारी हेल्थ को प्रभावित करती है। हम खाने में ऑयली फूड, फ्राई फूड और जंक फूड खाना ज्यादा पसंद करते हैं। बदलते खान-पान की इन आदतों ने हमें एसिडिटी और अपच की समस्याओं का शिकार बना दिया है। एसिडिटी की समस्या में निजात पाने के लिए हम अक्सर दवाई का इस्तेमाल करते हैं, जो हमें कुछ वक्त के लिए आराम देती हैं। धीरे-धीरे हमारी बॉडी को इन एसिडिटी की दवाईयों की आदत पड़ने लगती है। लेकिन आप जानते हैं कि एसिडिटी से बचाव करने के लिए दवाई से ज्यादा आयुर्वेदिक नुस्खें असरदार हैं।इन नुस्खों का सेवन करने से बॉडी पर किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता। हाल ही में आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ दीक्षा भवसर ने इंस्टाग्राम पर कुछ आयुर्वेदिक नुस्खे बताएं हैं जिनसे एसिडिटी और अपच की समस्या को दूर भगाने में मदद मिल सकती हैं। एक्सपर्ट के मुताबिक आप अपनी डाइट ऐसी रखें कि जिससे एसिडिटी की समस्या नहीं हो। एक्सपर्ट ने कुछ सुझाव दिए हैं जिन्हें अपना कर आप एसिडिटी की समस्या से निजात पा सकते हैं।

मसालेदार चीजों से दूर रहेः एसिडिटी और अपच न हो इसके लिए जरूरी है कि पहले से आप मसालेदार चीजों से परहेज कर लें। ज्यादा खट्टा, तीखा, फ्राई, तेल वाली चीजें, प्रोसेस्ड फूड का सेवन न करें।

ज्यादा न खाए: खाने के समय ओवरइटिंग न करें। कहा जाता है कि किसी भी बीमारी से दूर रहने के लिए बेहतर है कि हम कम खाएं। यानी खाना जब खाते हैं तो उसकी कम मात्रा का सेवन करें। बेशक थोड़ी देर बाद आप दोबारा खा लें।

भूखे नहीं रहेः ज्यादा नहीं खाने का मतलब यह नहीं है कि आप खाना देर से खाएं। भूखे पेट ज्यादा देर तक नहीं रहें। किसी भी समय का खाना स्किप नहीं करें। नाश्ते के बाद लंच करना नहीं भूलें।

लहसन, नमक, तेल से परहेजः लहसुन हेल्थ के लिए बेहद फायदेमंद है लेकिन इसका ज्यादा सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए। कोई भी ऐसी चीज नहीं खाएं जिसमें लहसन, नमक, तेल और मिर्च ज्यादा हो, ये सब एसिडिटी बढ़ाते हैं।

भोजन के बाद बिस्तर पर न जाएः खाना खाने के बाद तुरंत कभी भी बिस्तर पर नहीं लेटे। कोशिश करें कि बिस्तर पर जाने से एक घंटे पहले खाना खाएं। इसके अलावा स्मोक अल्कोहल से दूर रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *