हरिद्वार: छह वर्षीय बच्चे के अपहरण में एक महिला और दो युवक गिरफ्तार, अपहरण की हैरानी करने वाली वजह

हरिद्वार । हरिद्वार के रोड़ीबेलवाला क्षेत्र से छह वर्षीय मयंक के अपहरण में पुलिस ने एक महिला और दो युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पुलिस के अनुसार महिला को गोद देने के लिए बच्चे का अपहरण किया गया था। अपहरण में प्रयुक्त बाइक पंजाब से चोरी की गई थी। बाइक के साथ दो आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। रविवार को नगर कोतवाली में एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने पत्रकारों से वार्ता में मामले का खुलासा किया। एसपी सिटी ने बताया कि रोड़ीबेलवाला निवासी गंगा और अरविंद के बेटे मयंक का नौ दिसंबर को अपहरण कर लिया गया था। एसएसपी अजय सिंह ने पुलिस टीमों का गठन किया था। पुलिस ने उत्तर प्रदेश के कस्बा देवबंद तक सीसीटीवी कैमरों की जांच की थी। पुलिस ने देवबंद के हंसवाड़ा से 16 दिसंबर को बच्चे को सकुशल बरामद किया था। बच्चे को बरामद करने के बाद पुलिस अपहरणकर्ताओं की तलाश में लगी हुई थी। पुलिस जांच में पंजाब के पतारा से मोटरसाइकिल चोरी करने की बात सामने आई थी। पंजाब से चोरी की गई बाइक का उपयोग बच्चे का अपहरण करने में किया गया था। शुक्रवार को बाइक चोरी के आरोपी बिटटू और सतीश को पुलिस ने झबरेड़ा क्षेत्र से गिरफ्तार किया था। बाइक चोरी के आरोपियों ने पूछताछ में बताया था कि चोरी करने के बाद बाइक परिचित शैंकी को दी थी।पुलिस ने शैंकी तक पहुंच कर पूछताछ की। पूछताछ में शैंकी ने बताया कि मनीष कुमार निवासी गांधी कॉलोनी लालवाला रोड थाना देवबंद और विशाल निवासी ग्राम रणखंडी खालापट्टी थाना देवबंद बाइक मांगकर हरिद्वार ले गए थे। दोनों ने रोड़ी बेलवाला से छह वर्ष के मयंक का अपहरण कर लिया था। मनीष की बुआ साक्षी ने मनीष को बच्चा गोद दिलाने के लिए कहा था। जिसके बाद मनीष और विशाल ने मिलकर रोड़ीबेलवाला से छह वर्षीय मयंक को ब्रेड पकोड़ा खिलाने का लालच दिया और बाइक पर बैठाकर अपहरण कर ले गए। इसके बाद आरोपियों ने देवबंद में साक्षी के घर ले जाकर बच्चे को सौंप दिया था। एसपी सिटी ने बताया कि बाइक चोर पकड़े जाने के बाद तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी पर 20 हजार का इनाम घोषित किया गया था। तीनों आरोपियों को जेल भेजा गया है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *