जनपद में कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए किए जा रहे हैं विविध उपाय, जिलाधिकारी सी. रविशंकर ने कहा कोविड-19 संबंधी आदेशों के उल्लंघन पर की जाएगी सख्त कार्रवाई

हरिद्वार । जिलाधिकारी सी.रविशंकर ने अवगत कराया कि जनपद में कोविड-19 के संक्रमण से बचाव हेतु विविध उपाय किए जा रहे हैं। राज्य सरकार एवं चिकित्सा एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा निरंतर कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति पर निगरानी रखी जा रही है तथा समय पर इस सम्बन्ध में दिशा-निर्देश भी जारी किये गये हैं, जिनका अनुपालन कराया जाना आवश्यक है। लाॅकडाउन के उपरान्त प्रदेश के विभिन्न जिलों तथा अन्य प्रदेशों से आवागमन में वृद्धि होने के फलस्वरूप पाॅजीटिव मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि परिलक्षित हुई है। ऐसी दशा में कन्टेंटमेंट जोन काफी संख्या में घोषित किये जा रहे हैं। कन्टेनमेंट जोन घोषित करते समय प्रदत्त गाईडलाइन का भी अनुपालन आवश्यक है ताकि भविष्य में किसी प्रकार के विवादों से बचा जा सके। इस संबंध में जिलाधिकारी ने सतत् कार्यवाही और समयबद्ध अनुश्रवण, निगरानी सुनिश्चित किये जाने हेतु सम्बन्धित क्षेत्र के उपजिलाधिकारी को कन्टेनमेंट जोन घोषित किये जाने हेतु तथा एमओएचएफडब्ल्यू भारत सरकार के मानकों के अनुसार निर्धारित समयावधि 28 दिन पूर्ण होने पर उसे कन्टेंटमेंट जोन के प्रतिबन्धों से अवमुक्त करने हेतु नामित कर निर्देश दिये कि कन्टेनमेंट जोन बनाये जाने तथा अवमुक्त कराये जाने सम्बन्धित प्रतिदिन की सूचना से जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी, नोडल अधिकारी, कन्टेनमेंट जोन एवं जिला कन्ट्रोल रूम, कोविड-19 हरिद्वार को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। आदेशों के उल्लंघन की स्थिति में आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 व एपिडेमिक डिसीज कोविड-19 रेगुलेशन 2020 एपिडेमिक डिसीज एक्ट 1897 एवं भारतीय दण्ड संहिता तथा अन्य अधिनियमों के अंतर्गत कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *