वीरांगना अहिल्याबाई होल्कर ने देश और समाज सेवा के लिए अपना जीवन दांव पर लगाते हुए समाज में नई चेतना का उदय किया, ऑल इंडिया धनगर समाज महासंघ द्वारा मनाई गई अहिल्याबाई होल्कर की जयंती

कलियर / इमलीखेड़ा । ऑल इंडिया धनगर समाज महासंघ उत्तराखंड के तत्वाधान में गांव इमली खेड़ा में लोकमाता अहिल्याबाई होलकर जी की 295वीं जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई गई। लोकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सभी उपस्थित व्यक्तियों को मास्क वितरण किए गए। इसके उपरांत लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पित कर प्रसाद वितरण किया गया। इस अवसर पर ऑल इंडिया धनगर समाज महासंघ उत्तराखंड के प्रदेश उपाध्यक्ष विजेंद्र पाल ने लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर के जीवन पर प्रकाश डाला तथा उनके द्वारा किए गए कार्यों का उल्लेख किया। ऑल इंडिया धनगर समाज महासंघ उत्तराखंड के जिला महासचिव हरिद्वार पवन पाल धनगर ने बताया कि लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर का जन्म 31 मई 1725 को अहमदनगर महाराष्ट्र के चौंढी गांव में हुआ था। अहिल्याबाई होल्कर एक महान शासक थी और मालवा प्रांत की महारानी लोकमाता अहिल्याबाई के द्वारा किए हुए कार्यों के बारे में बताया जिसमें लोकमाता अहिल्याबाई होलकर जी के द्वारा पूरे देश में कई हजार मंदिरों का निर्माण व कुओं का निर्माण कराया गया। पिछड़े बहुजन एकता मंच के संयोजक दीपक कैंथल युवाओं को प्रेरित कर अपने महापुरुषों के विषय में जानने का आग्रह किया और सभी से हर वर्ष लोकमाता अहिल्याबाई होलकर जयंती मनाने का आह्वान किया। इस अवसर पर ऑल इंडिया धनगर समाज महासंघ उत्तराखंड के जिला महासचिव हरिद्वार पवन पाल धनगर, जॉनी पाल धनगर पिछड़े बहुजन एकता मंच से शुभम सैनी व मंच के मुख्य प्रवक्ता अंकित सैनी व धनगर समाज मांगेराम धनगर, नरेश धनगर, सुरेश धनगर, मुकेश धनगर, श्यामलाल धनगर, अरविंद धनगर, तेलुराम धनगर, सचिन धनगर, पंकज धनगर, अमित धनगर, रजनीश धनगर, नरेंद्र धनगर, तेजपाल धनगर, सनी कटारिया, विक्रम धनगर, मधुसूदन सैनी व सुमित सैनी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *