अधिकारियों से बोले जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय- आने वाला समय चुनौतीपूर्ण, कोविड की तीसरी लहर से निपटने के लिए सभी तैयारियां की जाए पूर्ण

हरिद्वार । जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ एक बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी विभागों के कार्यालय प्रमुखों को निर्देशित किया कि वे उनके विभाग द्वारा जो भी प्रमुख योजनायें/कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं, उनकी वर्तमान में क्या स्थिति है, उनके क्रियान्वयन में कहां पर बाधा आ रही है, योजना भारत सरकार की है या राज्य सरकार की आदि बिन्दुओं को शामिल करते हुये, प्रत्येक विभाग एक प्रस्तुतीकरण देना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आगामी सोमवार से दो घण्टे का कार्यक्रम रखा जायेगा, जिसमें प्रत्येक दिन पांच विभागों की समीक्षा रखी जायेगी। उन्होंने कहा कि इस समीक्षा में प्रत्येक विभाग को अपने विभाग के फ्लैशिप कार्यक्रमों/योजनाओं के बारे में समयबद्धता का ध्यान रखते हुये पूरी जानकारी देनी है।
श्री विनय शंकर पाण्डेय ने बैठक में अधिकारियों से कहा कि आने वाला समय हम सभी के लिये चुनौतीपूर्ण है। उन्होंने कहा कि कोविड की तीसरी लहर की संभावना व्यक्त की जा रही है, जिससे निपटने के लिये पूरी तैयारी रखनी है, निकट भविष्य में चुनाव भी हैं। जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि आप अपना कार्य पूरे मनोयोग, पारदर्शिता एवं ईमानदारी से दबावमुक्त वातावरण में करिये। हमारा आपको पूरा सहयोग प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। कहीं पर भी कार्य की गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं होना चाहिये। उन्होंने कहा कि कहीं से भी कोई शिकायत प्राप्त नहीं होनी चाहिये, अगर कहीं पर भी शिकायत सही पाई जाती है, तो सम्बन्धित के खिलाफ जीरो टालरेंस के तहत सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी। बैठक में नगर आयुक्त, नगर निगम, हरिद्वार, जय भारत सिंह ने मानव संसाधनों की कमी, शहर में आवारा पशुओं को पकड़ने में आ रही दिक्कत आदि के सम्बन्ध में जिलाधिकारी को जानकारी दी, नगर आयुक्त, नगर निगम, रूड़की, सुश्री नपूर वर्मा ने अतिक्रमण हटाने में पीआरडी/ होमगार्ड की सेवायें लेने के सम्बन्ध में चर्चा की, मुख्य शिक्षा अधिकारी डाॅ0 आनन्द भारद्वाज ने स्कूलों को सेनेटाइज करने आदि के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। इस पर जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि बच्चों के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखा जाये। इस पर मुख्य शिक्षा अधिकारी ने बताया कि हम प्रत्येक स्कूल में कोविड के नियमों का पालन करते हुये पूरी सतर्कता बरत रहे हैं। प्रभागीय वनाधिकार नीरज कुमार ने बन्दरों की समस्या की ओर जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट किया तथा बन्दरों को पकड़ने की व्यवस्था के सम्बन्ध में अवगत कराया। इस पर जिलाधिकारी ने प्रभागीय वनाधिकारी से कहा कि आप बन्दर पकड़ने वाली टीमों की संख्या में वृद्धि कर सकते हैं। इसके लिये जिस तरह की सहायता की जरूरत होगी पूरी मदद की जायेगी। बैठक में कोविड प्रोटोकाल में युवाओं द्वारा लापरवाही बरतने, बहादराबाद एरिया में वेस्ट मैनेंजमेंट की समस्या के सम्बन्ध में भी विस्तृत चर्चा हुई। बैठक में हरिद्वार में शराब व ड्रग की समस्या के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा हुई। इस पर जिलाधिकारी ने मद्यनिषेध विभाग के अधिकारियों को इस सम्बन्ध में कार्रवाई करने के निर्देश दिये तथा उन्होेंने बताया कि इस सम्बन्ध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से भी मैंने कार्रवाई करने को कहा है। जिला खनन अधिकारी रवि नेगी ने, गंगा नदी के कहीं-कहीं पर बहने का स्थान परिवर्तन करने पर प्रकाश डाला। इस पर जिलाधिकारी ने सभी पहलुओं का ध्यान रहते हुये खनन विभाग की ओर से पक्ष प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। इस मौके पर जिलाधिकारी को नगर आयुक्त, नगर निगम रूड़की ने तुलसी का पौधा भेंट किया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डाॅ0 सौरभ गहरवार, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) बी0के0 मिश्रा, अपर जिलाधिकारी(वित्त एवं राजस्व)श्री के0के0 मिश्रा, ओ.सी कलक्ट्रेट गोपाल सिंह चैहान, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र सुश्री पल्लवी गुप्ता, जिला विकास अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र सिंह चैहान, अर्थ एवं संख्या अधिकारी पूरण सिंह तोमर, सहायक अर्थ एवं संख्या अधिकारी लख्मीचन्द, जिला पंचायतराज अधिकारी रमेश चन्द्र त्रिपाठी, डीएसओ श्री के0के0 अग्रवाल, सहायक निदेशक मत्स्य श्री अनिल कुमार, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण, दीपक कुमार, अधिशासी अभियन्ता जल निगम मौ0 मीशम, जिला कार्यक्रम अधिकारी देव सिंह, जिला बचत अधिकारी सुरेन्द्र सिंह पाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्री अमन अनिरूद्ध, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला क्रीडाधिकारी, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, सेवायोजन अधिकारी, कृषि, पर्यटन, विद्युत, जल संस्थान, सहकारिता, खादी ग्रामोद्योग, गन्ना विभाग, डेयरी सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *