बहुउद्देशीय पश्चिमी किसान सहकारी समिति में अवैध नियुक्तियों का आरोप, पूर्व चैयरमेन ने शासन को पत्र भेजकर की जांच की मांग, कहा अवैध रूप से हुई नियुक्ति

रुड़की। बहुउद्देशीय पश्चिमी किसान सहकारी समिति में लिपिक संवर्ग की नियुक्तियों को अवैध बताया है। पूर्व चैयरमैन हरेन्द्र सिंह ने शासन को शिकायती पत्र भेजकर नियुक्तियों की जांच कराने की मांग की है। पत्र में लिखा है कि प्रार्थी ग्राम थीथकी कवादपुर तहसील रुडकी जिला हरिद्वार का स्थाई निवासी है प्रार्थी बहुउददेशीय पश्चिमी किसान सहकारी समिति मंगलौर जिला हरिद्वार का सदस्य है तथा पूर्व में उक्त समिति का चेयरमैन भी रहा है। वर्ष 2021-22 में उक्त समिति द्वारा बिना किसी संवैधानिक रूप से लिपिक संवर्ग में 06 नियक्तिया कर दी है उक्त लिपिक संवर्ग हेतु किसी भी प्रकार की कोई विज्ञप्ति व बिना किसी सूचना के उक्त पदो पर अवैध रूप से नियुक्ति कर दी है उक्त समिति में जो लिपिक पद हेतू नियुक्ति की गयी है वह अधिकतर समिति के पदाधिकारी/प्रबन्ध निर्देशक के पारिवारिक व निजी व्यक्तियों की तैनाती की गयी है जिसके सम्बन्ध में प्रार्थी द्वारा समिति के प्रबन्ध निदेशक से व्यक्तिगत सम्पर्क कर उक्त लिपिक संवर्ग के पदों की नियुक्ति के सम्बन्ध में पूछ ताछ की तो प्रबन्ध निदेशक द्वारा यह आश्वासन दिया कि जो नियुक्तिया की गयी है वह उच्च अधिकारियों के संज्ञान में है तथा उनकी निगरानी में ही यह नियुक्तिया की गयी है या जो नियुक्तिको उक्त समिति में की गयी है उनमें बड़े स्तर पर धांधलेगिर्दी व साठगांठ के द्वारा की गयी है जिस कारण उपरोक्त समिति में की गयी लिपिक संवर्ग के पदों पर नियुक्तियों से सम्बन्धित उच्चस्तरीय जांच करायी जानी आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *