अंकिता के हत्यारोपी के पिता से कई घंटे की पूछताछ, पूर्व दर्जाधारी पर उनके चालक ने कुकर्म के प्रयास का लगाया था आरोप

हरिद्वार । अंकिता हत्याकांड के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता और पूर्व दर्जाधारी विनोद आर्य से ज्वालापुर पुलिस ने कई घंटों तक पूछताछ की। इसके बाद पूर्व दर्जाधारी को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। गुरुवार को पीड़ित के बयान के अवलोकन के बाद पुलिस अग्रिम कार्रवाई करेगी। पूर्व दर्जाधारी पर उनके चालक ने कुकर्म के प्रयास का आरोप लगाया था। छुटमलपुर थाना फतेहपुर, सहारनपुर निवासी युवक ने मुकदमा दर्ज कराते हुए बताया था कि पूर्व दर्जाधारी विनोद रात में उसे अपने पास बुलाते थे और अपनी मालिश-मसाज करने, पैर दबाने के लिए कहते थे। आरोप है कि 20 नवंबर की रात विनोद आर्य ने उसे बुलाया और मसाज के दौरान कुकर्म करने का प्रयास किया। इसके बाद वह डरकर छुटमलपुर चला गया था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद देर रात को ही पूर्व दर्जाधारी विनोद आर्य को हिरासत में ले लिया था। करीब कई घंटों तक ज्वालापुर पुलिस ने आरोपों के संबंध में पूछताछ की। विनोद आर्य ने आरोपों को निराधार बताया। उधर पुलिस ने बुधवार दोपहर बाद पीड़ित के बयान कोर्ट में दर्ज कराए हैं। बयानों की प्रतिलिपि न मिलने के कारण पुलिस ने पूर्व दर्जाधारी को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। क्योंकि कोर्ट में दिए गए पीड़ित के बयान के आधार पर ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। उधर विनोद आर्य ने कहा कि पुलिस घर पर भी आई थी। जो आरोप चालक ने लगाए है वह पूरी तरह फर्जी और मनगढ़ंत हैं।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *