यूक्रेन में फंसे भारतीयों को रोमानिया-हंगरी के रास्ते निकालने की योजना, विद्यार्थियों को सीमा चौकियों पर पहुंचने को कहा

नई दिल्ली । यूक्रेन में जारी युद्ध के बीच वहां फंसे भारतीयों को निकालने के लिए केंद्र सरकार व दूतावास ने रोमानिया व हंगरी का रास्ता चुना है। इस रास्ते से भारतीयों को निकालने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। हंगरी में भारतीय दूतावास ने बताया कि अभी उजहोरोड के पास हंगरी की सीमा पर स्थित चॉप-जहोनी (CHOP-ZAHONY) और रोमानिया की सीमा पर स्थित चेर्नित्सि के पोरुब्न-सिरेत (PORUBNE-SIRET) पर निकासी टीमें पहुंच रही हैं। हंगरी में भारतीय दूतावास ने कहा कि पहले उन भारतीयों, खासकर विद्यार्थियों को, जो कि उक्त सीमा चौकियों के आसपास के इलाकों में रह रहे हैं, को संगठित रूप से वहां पहुंचने को कहा गया है। उन्हें इसके लिए विदेश मंत्रालय की टीम से समन्वय करने को कहा गया है। यूक्रेन में जारी जंग के चलते भारत के 15 हजार से ज्यादा लोग वहां विभिन्न शहरों में फंस गए हैं। करीब 4 हजार लोग वहां से निकल आए हैं। एयर इंडिया की शुरुआती उड़ानों से भी कई लोगों को दिल्ली लाया गया। रूसी बमबारी व दोनों देशों की सेनाओं के बीच भीषण संग्राम जारी है। कीव के बाहरी इलाके में सेना ने तीन पुल उड़ा दिए हैं, ताकि रूसी टैंक वहां नहीं घुस सकें। जंग के बीच भारतीयों की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। उनके पास खाने पीने का सामान भी नहीं है। इधर, दिल्ली में सूत्रों ने कहा कि भारत सरकार देश के नागरिकों को यूक्रेन से निकालने के लिए उड़ानें शुरू करेगी। इन उड़ानों का खर्च सरकार द्वारा उठाया जाएगा।

इन हेल्प लाइन नंबरों पर कर सकते हैं संपर्क
केंद्र सरकार ने यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों के लिए हेल्पलाइन नंबर्स भी जारी किए हैं। ये टोल फ्री नंबर्स हैं, जिनके जरिए से वर्तमान स्थिति पर अधिक जानकारी ली जा सकती है।

हेल्पलाइन नंबर्स
38 0997300428
38 0997300483
38 0933980327
38 0635917881
38 0935046170

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *