ऑटो चालकों ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया, आर्थिक मदद के साथ बैंक ब्याज माफ करने की मांग की

हरिद्वार । देवभूमि ऑटो रिक्शा मालिक एवं चालक कल्याण समिति के पदाधिकारियों ने सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर आर्थिक मदद के साथ बैंक ब्याज पर माफ करने व टैक्स माफी के साथ एक साल तक बिजली बिल व स्कूल फीस माफ करने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने के दौरान समिति के महामंत्री राजकुमार प्रिंस ने कहा कि कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए किए गए लाॅकडाउन के चलते आॅटो रिक्शा मालिक एवं चालक भूखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं। आॅटो रिक्शा चलाकर परिवार का पालन पोषण करने वाले चालक व मालिक परिवार के लिए दो वक्त की रोटी तक नहीं जुटा पा रहे हैं। अधिकांश आॅटो मालिकों ने बैंक से ऋण लेकर या फाईनेंस पर आॅटो रिक्शा खरीदे हैं। लेकिन कामकाज नहीं चल पाने के कारण वे बैंक की किश्त भी नहीं चुका पा रहे हैं। जिस कारण बैंक व फाईनेंस वाले भी उन्हें परेशान कर रहे हैं। इसको देखते हुए सरकार को आॅटो मालिकों व चालकों को राहत देनी चाहिए। उन्होंने मांग की कि आर्थिक तंगी से जूझ रहे आॅटो चालकों व मालिकों को दस हजार रूपए आर्थिक मदद के तौर पर दिए जाएं। इसके साथ बैंक ब्याज व वाहनों का टैक्स भी माफ किया जाए। एक साल तक बिजली के बिल व स्कूलों की फीस माफ की जाए। प्रदीप त्यागी व दीपांशु विद्यार्थी ने कहा कि सरकार को आर्थिक तंगी का सामना कर रहे आॅटो चालकों की समस्याओं पर गंभीरता पूर्वक विचार कर राहत प्रदान करनी चाहिए। ज्ञापन देने वालों में भाजपा नेता रवि जैसल, दीपक कुमार, विनोद कुमार, आशीष त्यागी, मनीष रावत, अजय, दर्शन, राजेश, हरिराम, कुंवर पाल, इसरार, पवन, प्रमोद चैारी, महिपाल, कपिल, हिमांशु आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *