पाचन को दुरुस्त रखने के साथ मौसमी बीमारियों का भी उपचार करेगी काली मिर्च, ओमिक्रोन से बचाव करने में भी है असरदार

औषधीय गुणों से भरपूर काली मिर्च ऐसा गर्म मसाला है जो खाने का स्वाद बढ़ाती है, साथ ही सेहत को भी फायदा पहुंचाती है। काली मिर्च का सेवन करके कई बीमारियों का उपचार किया जा सकता है। एंटी-इंफ्लेमेटरी और डाइजेस्टिव गुणों से भरपूर काली मिर्च पाचन को दुरूस्त रखती है। काली मिर्च गठिया की बीमारी और स्किन की समस्याओं का बेहतरीन इलाज है। यह ब्लड शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करती है। सर्दी में हमारी इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है और हमें मौसमी बीमारियां बेहद परेशान करती हैं ऐसे में काली मिर्च का सेवन इनसे छुटकारा पाने में मदद करता है। कोरोनाकाल में काली मिर्च का सेवन बेहद असरदार है। आयुष मंत्रालय ने इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए काली मिर्च का इस्तेमाल काढ़े में करने की सलाह दी थी। काली मिर्च का सीमित सेवन ओमिक्रोन से बचाव करने में भी असरदार है। काली मिर्च पौष्टिक आयुर्वेद सामग्री में से एक है जिसका इस्तेमाल हम चाट में, सलाद, सूप और अंडे में करते हैं। इम्यूनिटी बढ़ाने वाली काली मिर्च हमारे खाने का स्वाद बढ़ाती है। आइए जानते हैं कि इसका सेवन करने से बॉडी को कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं।

काली मिर्च के फायद

वज़न को कंट्रोल करती है: एक अध्ययन के मुताबिक काली मिर्च का खाने में सेवन करने से वज़न कंट्रोल रहता है। काली मिर्च में मौजूद पाइपरिन और एंटीओबेसिटी प्रभाव वज़न कम करने में असरदार है।

सर्दी-खांसी का बेहतरीन इलाज है: कई मेडिकल रिसर्च में यह बात सामने आई है कि काली मिर्च सर्दी-खांसी और कफ को दूर करने में बेहद असरदार है। इसमें पाइपरिन (Piperine) नामक कंपाउंड मौजूद होता है, जो सर्दी-खांसी की समस्या से छुटकारा दिलाता है। गले में खराश है तो काली मिर्च का सेवन करें, गले को सुकून मिलेगा।

ओरल हेल्थ का रखती है ध्यान: काली मिर्च का सेवन करने से ओरल हेल्थ दुरुस्त रहती है। एक वैज्ञानिक शोध से पता चलता है कि इसमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो मुंह में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करते हैं। इसका सेवन करने से मसूड़े की सूजन कम होती है, साथ ही दांतों की समस्याओं से भी निजात मिलती है। अगर दांतों में दर्द है तो लौंग के तेल में काली मिर्च पाउडर मिलाकर दांतों की मसाज करें राहत मिलेगी।

भूख नहीं लगती तो काली मिर्च खाएं: जिन लोगों को भूख नहीं लगती वो खाने में काली मिर्च को शामिल करें। काली मिर्च में एल्कलॉइड, ओलेरोसिन और ऑयल जैसे कुछ कंपाउंड मौजूद होते हैं जो भूख को बढ़ाने में असरदार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.