12 साल से फरार 10 हजार का ईनामी हत्यारोपित पंजाब से गिरफ्तार, सजा की अपील उच्च न्यायालय में खारिज होने के बाद से चल रहा था फरार

रुद्रपुर । नानकमत्ता में हत्या के मामले में दोष सिद्ध होने के बाद फरार 10 हजार के ईनामी को नानकमत्ता पुलिस ने पंजाब से गिरफ्तार कर लिया। सजा की अपील उच्च न्यायालय में खारिज होने के बाद से वह फरार चल रहा था। एसपी सिटी ममता वोहरा ने बताया 1995 में आपसी विवाद के चलते जरनैल सिह पुत्र बजारा सिंह निवासी बिचई थाना नानकमत्ता आदि ने मक्खन सिंह पुत्र चरण सिंह निवासी बिचई की गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिस मामले में थाना नानकमत्ता में हत्या का मुकदमा दर्ज कर जरनैल सिंह को गिरफ्तार कर जिला कारागार हल्द्वानी भेजा गया था। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने सुनवाई के उपरांत जरनैल सिंह आदि को सिद्ध दोष किया गया था। जिसकी अपील जरनैल सिंह आदि द्वारा उच्च न्यायालय नैनीताल में करने के उपरांत जमानत प्राप्त कर ली थी। बाद में अपील को न्यायालय द्वारा खारिज कर दिया गया था। इसकी जानकारी मिलते ही जरनैल सिह अपने पूरे परिवार के साथ नानकमत्ता से फरार हो गया था। पिछले 12 वर्षों से जरनैल सिंह लगातार फरार चल रहा था। जिस पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वारा जरनैल सिंह के गिरफ्तारी वारंट जारी करने के बाद पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने जरनैल सिंह पर दस हजार रूपये का ईनाम घोषित करते हुए नानकमत्ता पुलिस को कार्यवाही के निर्देश दिए थे। जिस पर पुलिस टीम का गठन कर दिया गया था। पुलिस टीम को जानकारी मिली जरनैल सिंह ग्राम आभोर फाजिल्का पंजाब में निवास कर रहा है। जिस पर पुलिस टीम ने दबिश देकर 22 फरवरी को जरनैल सिंह पुत्र बंजारा सिंह को ग्राम कडक्का सिंह डांडी थाना सिटी-1 तहसील आभोर जिला फाजिल्का पंजाब से गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *