क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद का नाम बहादुरी, राष्ट्रभक्ति और बलिदान का पर्याय, जयंती पर याद किए गए चंद्रशेखर आजाद

रुड़की । आज गतवर्षो की भांति तहसील कैम्प कार्यलय पर भाजपा नेता व प्रदेश अध्यक्ष अ.मानवाधिकार संगठन ब्यूरो के नेतृत्व में अधिवक्ता व ब्यूरो पदाधिकारीगणों ने देश की क्रांति के प्रथम पंक्ति शहीद पंडित चंद्रशेखर आज़ाद की 114वी जयंती व अमर सपूत बाल गंगाधर तिलक जी की 164वी जयंती वर्ष पर श्रध्जंलि कार्यक्रम आहूत कर शहीद अमर सपूतों को श्रध्जंलि सुमन अर्पित कर श्रद्धाजंलि दी श्रध्जंलि कार्यक्रम में अध्यक्षता कर रहे जसवंत सिंह थापा अध्यक्ष गोरखा समाज ने देशभक्त चंद्रशेखर आज़ाद व बाल गंगाधर तिलक के जीवनचरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि देशभक्त आज़ाद ने अंग्रेजों से भारत माता को आज़ाद कराने वास्ते अपने प्राणों की परवाह न कर स्वंम को गोली मार भारत माता की आज़ादी पर न्यौछावर कर इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया था हम अपने श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रदांजलि देते हैं इसी क्रम में भाजपा नेता जैन ने विचार व्यक्त कहा कि हम देश की आज़ादी के मतवाले शहीद पंडित चंद्रशेखर आज़ाद व बाल गंगाधर तिलक जी ने अंग्रेजी हुकूमत के हुक्मरानो की हुकूमत से भारत माता को आज़ाद कराने वास्ते अपने प्राणों को हँसते हँसते न्यौछावर कर दिया था शहीद आज़ाद ने देश की क्रांति में प्रथम सहभागिता कम उम्र में गांधी जी के असहयोग आंदोलन से शुरु की थी तत्तउपरांत शहीद भगत सिंह व बटुकेश्वर दत्त आदि क्रांतिकारियों के साथ मिलकर शहीद आज़ाद ने हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिक पार्टी गठन कर क्रांतिकारी बिगुल फूंका था शहीद आज़ाद ने शहीद पंडित रामप्रसाद बिस्मिल व भगत सिंह आदि संग मिलकर लाहौर में लाला लाजपतराय की मौत का बदला अंग्रेजी हुकूमत लेफ्टिनेंट साण्डर्स को मार कर लिया वरिष्ठ नेता भाजपा सुबोध शर्मा जी ने व्यक्तत्व में कहा शहीद आज़ाद ने क्रांतिकारी साथियों के साथ मिलकर दिल्ली पहुँच कर असेंबली बमकांड को अंजाम दिया था पुष्पाजंलिअर्पित कर श्रध्जंलि देने वाले पंकज जैन, नरेश कुमार, अशोक कुमार, पूर्व बार एशोसिएशन उपाध्यक्ष सुनींल गोयल एडवोकेट, अभिनव एड, नूरहसन,सहजाद अल्वी,जाकिर,सचिन गोंड़वाल, सूरज वर्मा संदीप कुमार, सपना चौहान आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.