भाजपा कार्यकर्ताओं ने बलिदान दिवस के रूप में मनाई डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि, वक्ताओं ने कहा राष्ट्र की एकता व अखंडता के लिए अपना संपूर्ण जीवन समर्पित किया, उनके बताए मार्ग पर चलने का लिया संकल्प

हरिद्वार । भारतीय जनसंघ के संस्थापक एवं प्रखर राष्ट्रवादी चिंतक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि मंगलवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने बलिदान व शौर्य दिवस के रूप में मनाई। पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पाजलि कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित की। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान ने कहा कि डॉ. मुखर्जी ने राष्ट्र की एकता व अखंडता के लिए अपना संपूर्ण जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने कहा कि हा डॉ. मुखर्जी की लोकप्रियता इतनी अधिक थी कि नए संविधान के रूपरेखा के निर्माण पर कार्य करने को बंगाल काग्रेस द्वारा भारत की संविधान सभा के लिए उन्हें नामाकित किया गया था। उनके मार्गदर्शन में संगठन को काफी बल मिला। भाजपा जिला महामंत्री विकास तिवारी ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी एक महान शिक्षाविद और चिंतक के साथ जनसंघ के संस्थापक भी थे। उन्हें आज भी एक प्रखर राष्ट्रवादी और कट्टर देशभक्त के रूप में याद किया जाता है। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सच्चे अर्थों में मानवता के उपासक और सिद्धांतों के पक्के इंसान थे। संसद में उन्होंने सदैव राष्ट्रीय एकता की स्थापना को ही अपना प्रथम लक्ष्य माना था। संसद में दिए अपने भाषण में उन्होंने पुरजोर शब्दों में कहा था की राष्ट्रीय एकता की धरातल पर ही सुनहरे भविष्य की नींव रखी जा सकती है। भाजपा जिला मंत्री अनामिका शर्मा ने कहा कि आजादी के बाद देश की एकता एवं अखंडता के लिए बलिदान देने वाले योद्धा डॉ. मुखर्जी का इसी दिन निधन हुआ था। उन्होंने भारतीय राजनीति को नई दिशा देने का कार्य किया था। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष संदीप गोयल, अनिल अरोड़ा, जिला मंत्री आशु चौधरी, मीडिया प्रभारी लव शर्मा, मोहित वर्मा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *