मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने की इस्तीफे की पेशकश, संवैधानिक संकट पैदा होना बताई वजह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र

देहरादून । उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अपने पद से इस्तीफे की पेशकश कर दी है। जानकारी के अनुसार, उन्होंंने शुक्रवार को दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को इस्तीफे की पेशकश की है। बता दें कि तीरथ सिंह रावत ने बीती 10 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की थी। शपथ लेने के 115 दिन बाद उन्होंने इस्तीफे की पेशकश की है। सूत्रों के अनुसार तीरथ सिंह रावत ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को दिए खत में कहा है कि वे जनप्रतिधि कानून की धारा 191 ए के तहत छह माह की तय अवधि में चुनकर नहीं आ सकते। रावत ने कहा, ‘मैं छह महीने के अंदर दोबारा नहीं चुना जा सकता। ये एक संवैधानिक बाध्यता है। इसलिए अब पार्टी के सामने मैं अब कोई संकट नहीं पैदा करना चाहता और मैं अपने पद से इस्तीफे की पेशकश कर रहा हूं। आप मेरी जगह किसी नए नेता का चुनाव कर लें।मुख्यमंत्री रावत ने अपना इस्तीफा विधिवत राज्यपाल को सौंपने के लिए उत्तराखंड के राज्यपाल से मिलने का समय मांगा है। वक्त तय होते ही रावत गवर्नर हाउस पहुंचकर आधिकारिक तौर पर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.