मां मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट व निरंजनी अखाड़े ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए 51 लाख रूपए, अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने शहरी विकास मंत्री को सौंपा चेक

हरिद्वार । कोरोना वायरस की वजह से लाॅकडाउन घोषित होने के बाद से लगातार गरीब असहायों की मदद में जुटे मां मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के माध्यम से मुख्यमंत्री राहत कोष में इक्यावन लाख रूपए का चेक प्रदान किया है। श्रीमहंत रविंद्र पुरी महाराज ने कहा कि कोरोना महामारी से देश को बचाने के लिए दिन रात काम कर रहे यदि किसी चिकित्सक, नर्स, स्वास्थ्यकर्मी, पुलिस व पत्रकारों की यदि कोरोना संक्रमण से मौत होती है तो उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए। उन्होंने सभी समुदाय के धर्मगुरूओं से अपील की कि संकट की इस घड़ी में सभी को आगे आकर मदद करनी चाहिए। श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने बताया कि मुख्यमंत्री राहत कोष में दी गयी धनराशि में मां मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट की ओर से 25 लाख तथा श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी की ओर से 26 लाख रुपए की सहयोग राशि का योगदान किया गया है।श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि कोरोना वायरस के रूप में पूरी दुनिया संकट का सामना कर रही है। भारत भी इससे अछूता नहीं है। पूरे देश से कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। इस महामारी से देश की जनता को बचाने के लिए केंद्र सरकार को लाॅकडाउन जैसा कठोर निर्णय लेना पड़ा। लाॅकडाउन होने की वजह से रोजाना दिहाड़ी मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करने वालों के सामने समस्या खड़ी हो गयी है। इसको देखते हुए मां मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट व निरंजनी अखाड़े के माध्यम से प्रतिदिन गरीबों व बाहर से आए लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। लाॅकडाउन होने की वजह से गंगा स्नान के लिए दूसरे राज्यों से आए सैकड़ों श्रद्धालु भी यहीं रूके हुए हैं। उन सबको आश्रय देने के साथ भोजन भी दिया जा रहा है। गरीब व निराश्रितों की मदद के लिए सभी को सहयोग करना चाहिए। निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रामरतन गिरी महाराज ने कहा कि जल्द ही एक हजार क्विंटल राशन जनता में वितरित कराया जाएगा। कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए किए गए लाॅकडाउन के जारी रहने तक अखाड़े की ओर से सेवा कार्य अनवरत रूप से चलते रहेंगे। उन्होंने कहा कि इस संकट काल में जिससे जो भी बन सके गरीबों की मदद के लिए जरूर करे। पीएम केयर फण्ड, मुख्यमंत्री राहत कोष में मदद करें। जिससे इस महामारी से निपटने में मदद मिले।शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि इस वैश्विक संकट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरा देश एकजुट होकर कोरोना वायरस के खिलाफ एक जंग लड़ रहा है। देशवासियों की एकजुटता से कोरोना जरूर पराजित होगा। मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 लाख रूपए की मदद करने पर श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज का आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि इस संकट में मां मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट व निरंजनी अखाड़े ने सेवा की एक मिसाल कायम की है। इस संकट में प्रदेश की जनता को राहत पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में सरकार दिनरात प्रयास कर रही है। गरीबों को खाद्यान्न व कोरोना पीड़ितों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए तमाम जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। इस अवसर पर श्रीमहंत लखन गिरी, श्रीमहंत डोंगर गिरी, श्रीमहंत राधे गिरी ,श्रीमहंत नरेश गिरी, श्रीमहंत मुनेश भारती, एसएमएनजेएन पीजी कॉलेज के प्राचार्य डा.सुनील बत्रा, मां मनसा देवी मंदिर के ट्रस्टी प्रदीप शर्मा, अनिल शर्मा, डा.संजय माहेश्वरी, डा.सरस्वती पाठक, वैभव शर्मा, एमसी पांडे, अश्वनी जगता, डा.एनके गर्ग आदि ने भी श्री महंत रविंद्र पुरी का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *