जल्द कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं पत्रकार सुभाष सैनी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने साधा संपर्क

रुड़की । निर्दलीय मेयर का चुनाव लड़े पत्रकार सुभाष सैनी जल्द कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। इस बाबत उनकी कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं से बातचीत हुई है। उनके कुछ जानकारों ने इस बात की पुष्टि की है। और इस पत्रकार सुभाष सैनी लंबे समय से क्षेत्र की समस्याओं के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं । रुड़की को जिला बनाए जाने की मांग उनके एजेंडे में शामिल है। इसको लेकर वह कई बार रैली और सभा कर धरने प्रदर्शन भी कर चुके हैं। वरिष्ठ पत्रकार सुभाष सैनी के द्वारा लोकतांत्रिक जनमोर्चा बनाया गया है। मोर्चा के बैनर पर ही वह बेरोजगार युवकों और क्षेत्र के किसानों की तमाम मांगों को लेकर आंदोलित रहते हैं। फिलहाल उन्होंने रुड़की नगर निगम मेयर का चुनाव लड़ा। बतौर निर्दलीय प्रत्याशी उन्हें करीब 5000 वोट प्राप्त हुए। वोटों के इस आंकड़े से ही पत्रकार सुभाष सैनी ने राजनीतिज्ञों का दिल जीत लिया। जिसके चलते पिछले 5 दिन में पत्रकार सुभाष सैनी से कांग्रेस भाजपा, बहुजन समाज पार्टी के नेताओं ने संपर्क साधा है। समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता साहब सिंह सैनी ने भी उनसे बातचीत की है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के समर्थकों ने पत्रकार सुभाष सैनी का मन टटोला और उनके सामने कांग्रेस ज्वाइन करने का प्रस्ताव रखा। जानकारी मिली है कि पूर्व राज्य मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉक्टर संजय पालीवाल भी की भी कल वरिष्ठ पत्रकार सुभाष सैनी से भविष्य की राजनीति को लेकर लंबी बातचीत हुई। जिसमें डॉक्टर संजय पालीवाल ने सुभाष सैनी से आग्रह किया है कि वह अब निर्दलीय संघर्ष करने के बजाय राजनीतिक दल के बैनर के तले क्षेत्र के विकास के लिए लड़े। कांग्रेस नेता डॉक्टर संजय पालीवाल ने वरिष्ठ पत्रकार सुभाष सैनी से कहा है की उनके लिए कांग्रेस से अच्छा कोई मंच नहीं हो सकता । उन्होंने उन्हें बताया कि हरिद्वार जनपद में सैनी समाज का कांग्रेस से विशेष जुड़ाव रहा है। कांग्रेस हाईकमान ने भी सैनी समाज को हमेशा विशेष तरजीह दी है। इसीलिए वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव को देखते हुए भी उन्हें कांग्रेस की सक्रिय राजनीति में आना चाहिए। इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू रणविजय सिंह ,कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष बिट्टू शर्मा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जितेंद्र पवार, कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष सलीम खान भी मौजूद रहे। लंबी बातचीत के बाद प्रकार सुभाष सैनी ने कांग्रेस नेताओं से कहा है कि वह इस संबंध में सभी समर्थकों से विचार-विमर्श करेंगे। लोकतांत्रिक जनमोर्चा की कार्यकारिणी में वह कांग्रेस में शामिल होने के इस प्रस्ताव को रखेंगे जो भी वहां पर निर्णय होगा उसी के तहत आगे कदम उठाया जाएगा। वही जानकारी मिली है कि पत्रकार सुभाष सैनी ने कांग्रेस में जाने का मन बना लिया है। राजनीतिक जानकारों का भी यही कहना है कि सुभाष सैनी के लिए फिलहाल कांग्रेस से अच्छा कोई राजनीतिक मंच नहीं हो सकता। क्योंकि कांग्रेस में चुनाव लड़ने वाले सैनी चेहरे बहुत कम रह गए हैं। पूर्व मंत्री रामसिंह सैनी उम्र के अंतिम पड़ाव पर है ।बाबू रणविजय सिंह चुनाव की राजनीति करने की स्थिति में नहीं है । जबकि सैनी समाज में कांग्रेस में अन्य सैनी कार्यकर्ता भी कुछ क्षेत्र मात्र तक सीमित है। सुभाष सैनी को कांग्रेस का ही नहीं बल्कि कांग्रेस को भी सुभाष साहनी का काफिला मिल सकता है। क्योंकि सुभाष सैनी जुझारू और आक्रामक चेहरे हैं। जिन्होंने अपने दम पर नगर निगम मेयर का चुनाव लड़ा है। इस चुनाव में उन्होंने यह बात स्पष्ट कर दी है कि सैनी राजनीति को पुन: स्थापित करने के लिए ऐसे जुझारू नेतृत्व की ही आवश्यकता है। सुभाष सैनी यदि कांग्रेस में शामिल होंगे तो निश्चित रूप से उनके साथ बहुत सारे लोग कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करेंगे। पू राज्य मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉक्टर संजय पालीवाल ने माना है कि सुभाष सैनी के कांग्रेस में आने से पार्टी को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कहीं कोई खेमेबंदी नहीं है पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी कांग्रेस को मजबूत करना चाहते हैं और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी पार्टी को मजबूत करने के लिए दिन रात प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में सभी की कोशिश कांग्रेस का कुनबा बढ़ाने की है। ताकि वर्ष 2022 में कांग्रेस की सरकार बन सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.