बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं और महंगाई के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया सांकेतिक उपवास, प्रदेश महासचिव डा.संजय पालीवाल बोले- प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं पर सरकार का नियंत्रण समाप्त, मनमर्जी पर उतारू हैं प्राइवेट अस्पताल

हरिद्वार । प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर राज्य में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं तथा प्रतिदिन बढ़ रही महंगाई के खिलाफ महानगर कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में सभी पांचों ब्लॉक में कार्यकर्ताओं ने सांकेतिक उपवास किया। मध्य हरिद्वार ब्लाॅक की और से देवपुरा चौक पर आयोजित सांकेतिक उपवास कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश महासचिव डा.संजय पालीवाल ने कहा कि प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं पर सरकार का नियंत्रण समाप्त हो गया है। प्राइवेट अस्पताल मनमर्जी पर उतारू हैं। मरीजों को अस्पतालों में बेड के लिए भटकना पड़ रहा है। कोरोना काल में मरीजों को उपचार देने में भी भाजपा सरकार पूरी तरह विफल रही है। महानगर अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को लगभग 3 माह होने को हैं। लेकिन बदहाल स्वास्थ्य सेवाएं अभी तक पटरी पर नहीं आ पायी हैं। गरीब मजदूर वर्ग इलाज के लिए धक्के खाने को मजबूर है। संजय अग्रवाल ने कहा कि महंगाई चरम पर पहुंच चुकी महंगाई पर नियंत्रण लगाने में भी सरकार नाकाम सिद्ध हो रही है। महंगाई पर लगाम लगाने के लिए बजाए सरकार आंखें बंद किए बैठी है। उन्होंने आरोप लगाया कि ज्यादातर कारखाने चाहे तेल, रिफाइंड,खाद्यान्न, दालें और मसालों के ज्यादातर कारखाने भाजपा के नियंत्रण में है। इसलिए सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। प्रदेश उपाध्यक्ष रामयश सिंह व महिला जिलाध्यक्ष विमला पांडे ने कहा कि यदि भाजपा सरकार ने बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को दुरूस्त और महंगाई को नियंत्रित नहीं किया तो कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर विरोध करने को बाध्य होंगे। इस दौरान युवा जिला अध्यक्ष रवि बहादुर, ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र एडवोकेट, अमरीश रस्तोगी, ग्रामीण जिला अध्यक्ष धर्मपाल सिंह, मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा, अनिल भास्कर, संजीव चौधरी, अंजू द्विवेदी, पार्षद सोहेल अख्तर, धर्मपाल ठेकेदार, चोखे लाल, रमणीक सिंह, गुरमीत सिंह, बीना कपूर, सुषमा सहगल, शिव कुमार जोशी, दिनेश पुंडीर, मनोज जाटव, जगदीप असवाल, आकाश बिरला, त्रिपाल शर्मा, डा.मेहरबान खान, सोनू साहू आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.