‘स्वामित्व योजना में ग्राम समाज की भूमि होगी कब्जा मुक्त’, डिजिटल अभिलेख में सरकारी और निजी भूमि के अभिलेख किए जा रहे दर्ज, उपजिलाधिकारी स्मृता परमार ने सिकरोढ़ा गांव में स्वामित्व योजना का किया निरीक्षण

भगवानपुर । अपने घर, खेत के पास स्थित सरकारी जमीन जैसे पोखरा, तालाब, खलिहान आदि को निजी संपत्ति की तरह लोग अब इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। सार्वजनिक उपयोग की जमीन पर भी कब्जेदारी का मोह छोड़ना होगा। सोमवार को उप जिलाधिकारी स्मृता परमार ने निरीक्षण के दौरान कहीं। उप जिलाधिकारी ने सिकरोढ़ा गांव में स्वामित्व योजना का निरीक्षण कर डिजिटल अभिलेखों को देखा। उन्होंने बताया कि केंद्र के सहयोग से स्वामित्व योजना की शुरुआत की गई है। इसमें ग्रामीण आबादी के अंतर्गत सरकारी व निजी परिसंपत्तियों को अलग-अलग चिह्नांकित कर डिजिटल अभिलेख तैयार किए गए हैं।योजना के तहत डिजिटल अभिलेख तैयार कर ग्रामीणों को प्रमाणपत्र दिए जा रहे हैं। इससे वे अपने मकान व आबादी के भूखंड पर भी बैंक ऋण ले सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *