कांग्रेस ने प्रदेश सरकार के तीन साल को काला दिवस के रूप में मनाया, वक्ताओं ने कहा बेमिसाल नहीं परेशान है राज्य सरकार के तीन साल, किसान, युवा गरीब सब परेशान इस सरकार में

रुड़की । प्रदेश सरकार के तीन साल का कार्यकाल पूरा होने पर बुधवार को कांग्रेस काला दिवस मनाया। रुड़की में भगवानपुर विधायक ममता राकेश, मंगलौर विधायक काजी निजामुद्दीन,कलियर विधायक फुरकान अहमद ने पत्रकार वार्ता की और सरकार पर निशाना साधा और तीन साल के कार्यकाल को निराशाजनक बताया। और प्रदेश के इतिहास में यह तीन साल काला अध्याय बताया।रुड़की में दिल्ली रोड स्थित एक होटल में पत्रकार वार्ता के दौरान राष्ट्रीय महासचिव और मंगलौर विधायक ने कहा कि भाजपा सरकार के यह तीन साल काले अध्याय के रूप में लिखे जाएंगे। आज महंगाई अपने चरम सीमा पर पहुंच चुकी है। उन्होंने कहा आज गन्ना भुगतान को लेकर किसान परेशान है, पेट्रोल डीजल महंगा है सड़के टूटी हैं,स्वास्थ्य महकमे की स्थिति खरॉब है लोगों को इलाज नही मिल रहा है और आम आदमी विकास की बाट जोह रहा है। । सरकार की जनविरेाधी नीतियों की वजह से आम आदमी, किसान, गरीब, व्यापारी, कर्मचारी हर वर्ग परेशान है। कांग्रेस सरकार ने जो जो कल्याणकारी योजनाएं शुरू की थी, भाजपा ने सरकार में आते ही उन्हें बंद कर दिया। विधायक ममता राकेश ने कहा यह तीन साल केवल भाजपा सरकार के लिए बेमिशाल है जनता तो इसमें केवल परेशान ही है चाहे किसान हो, आंदोलनकारी या व्यापारी सब आज परेशान है। उन्होंने कहा परेशान किसानों के बिजली और पानी के बिल माफ होने चाहिए। उन्होंने कहा शिक्षक और कर्मचारी पुरानी पेंशन की लड़ाई लड़ रहे हैं। वही समाज कल्याण द्वारा मिलने वाली पेंशन का लाभ भी लोगों को नही मिल पा रहा है। छात्रों को छात्रवृत्ति भी समय से नही मिल पा रही है। उन्होंने कहा सड़कों के गड्ढे तक सरकार नही भर पाई। उन्होंने कहा कि हमने मांग की थी कि प्रदेश को शराब से मुक्त किया जाए लेकिन सरकार शराब को सस्ता कर दिया गया। उन्होंने कहा कि सरकार नशाखोरी को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए सरकार कोरोना की आड़ भी ले रही है। अभी तक राज्य में एक मामला सामने आया है। सरकार संक्रमण को फैलने से रोकने, उपचार की ठोस व्यवस्था करने के बजाए कोरी बाते कर रही है। विधायक फुरकान अहमद ने कहा सरकार का तीन साल का कार्यकाल पूरी तरह से निराशाजनक रहा है। डबल इंजन की सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई है। उन्होंने कहा राज्य सरकार के बजट में भी अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नही दिया गया। कहा कि बेरोजगारी चरम पर है युवा सड़कों पर उतरकर धरने प्रदर्शन को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि कलियर उर्स मेले में लाखों जायरीन आते हैं लेकिन सरकार वहां न पुल का निर्माण कार्य पूरा करना चाहती है और न पुराने पुल की मरम्मत। उन्होंने कहा सरकार पूरी तरह फेल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *