छठ पूजा में सूर्यदेव की कृपा प्राप्ति के लिए करें ये उपाय, दूर हो सकती है धन की कमी, माना जाता है कि वास्तु की पूर्व दिशा यदि दोषमुक्त है तो घर के भी सदस्य खुशहाल और संपन्न होते हैं

रुड़की । सूर्य देव की उपासना का पर्व छठ पूजा की शुरुआत नहाय-खाय से हो चुकी है। आज खरना के दिन सभी भक्त पूरे दिन भूखे रहकर शाम को प्रसाद ग्रहण करेंगे। छठ पूजा में सूर्यदेव का खास महत्त्व है। सूर्य धन संपत्ति, स्वास्थ्य और तेज़ प्रदान करते हैं। सूर्य सृष्टि का आधार हैं। वास्तु में भी सूर्य गृह को काफी महत्व दिया गया है। माना जाता है कि वास्तु की पूर्व दिशा यदि दोषमुक्त है तो घर के भी सदस्य खुशहाल और संपन्न होते हैं। सूर्य देव की उपासना के पर्व छठ में कुछ वास्तु उपाय करने से भी घर में धन संपदा का आगमन होता है।

सूर्य देव के साथ सात घोड़ों की तस्वीर- वास्तु के अनुसार, सूर्य देव के साथ सात घोड़ों के रथ वाली तस्वीर को घर में लगाने से धन की कमी नहीं होती। माना जाता है कि ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है और संपन्नता बनी रहती है। तस्वीर लगाते वक़्त ध्यान रखें कि उसकी दिशा पूरब में हो।

तिजोरी में रखें तांबे से बनी सूर्य की प्रतिमा- सूर्य देव की तांबे से बनी प्रतिमा को तिजोरी में रखने से भी धन लाभ होने की मान्यता है। वास्तु में यह भी कहा गया है कि अगर आप अपने गहनों के बीच इस तांबे की प्रतिमा को रखते हैं तो इससे धन में वृद्धि होती है।
रविवार के दिन करें ये काम- वास्तु के अनुसार, रविवार को सूर्योदय के पश्चात और सूर्यास्त के पहले नमक न ग्रहण करने से पैसे संबंधी शिकायतें दूर होतीं हैं। रविवार को दिन में मीठी चीजें खाएं और रात को नमक से बना भोजन ग्रहण करें। इस दिन लाल और पीले रंग के कपड़े पहनें। रविवार के दिन गुड़ का प्रयोग करें।

रसोईघर में हो प्रकाश आने की जगह- सूर्य की किरणें जहां भी पड़तीं हैं, वहां सकारात्मक उर्जा का वास होता है। इसलिए रसोईघर में प्रकाश आने की जगह रखें। इसी तरह स्नानघर में भी सूरज की रोशनी के लिए जगह बनाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.