निर्जला एकादशी पर रुड़की शहर विधायक प्रदीप बत्रा ने जन कल्याण के लिए दान किया, आने जाने वाले लोगों को मीठा जल पिलाया

रुड़की । निर्जला एकादशी पर गंगनहर में स्नान करने के साथ श्रद्धालुओं ने भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना की। इस दौरान गरमी से बचने वाले सामान भी गरीबों में बांटे गये। शहर विधायक प्रदीप बत्रा ने गंगनहर के घाट पर पहुंचकर विशेष पूजा अर्चना की और जनकल्याण के लिए दान किया निर्जला एकादशी पर गंग नहर घाट पर श्रद्धालुओं ने भगवान विष्णु की अर्चना कर जीवन में खुशियों की सौगात मांगी। लोगों ने साधुओं को पानी से भरी सुराही, हाथ से बने पंखे व छतरी के अलावा फल, वस्त्र भी बांटे। ज्योतिषाचार्य आचार्य पंडित राकेश कुमार शुक्ल ने कहा कि ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की निर्जला एकादशी का व्रत रखने पर 24 एकादशियों के व्रत रखने के समान फल मिलता है। भगवान कृष्ण ने भीम को व्रत रखने को कहा था। इसलिये इसे भीमसेन एकादशी भी कहते हैं। निर्जला एकादशी पर जल का दान करने से जीवन में सूखापन समाप्त हो जाता है। पर्व पर सुराही, पंखे, छतरी व गरमी से जुड़ी वस्तुएं दान की जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *