अनार के छिलके को ना समझे कचरा, इसके 6 फायदे जानकर हैरान हो जाएंगे आप

अनार और उसका जूस अन्य फायदों के  अलावा ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर और खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मदद करता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि अनार की तरह इसके छिलके भी हमारी सेहत को कई फायदे पहुंचा सकता है. आमतौर पर अनार के छिलकों को फेंक दिया जाता है, लेकिन आयुर्वेद में बताया गया है कि इसके नियमित उपयोग से विभिन्न स्वास्थ्य और ब्यूटी लाभ मिल सकते हैं. अनार के छिलके के हाई लेवल एंटीऑक्सीडेंट कई लाभ प्रदान करते हैं. आइए जानें कि अनार के छिलकों से क्या फायदे मिलते हैं.

1. स्किन की कई बीमारियों में मददगार
अनार के छिलके में एंटीऑक्सीडेंट और पॉलीफेनोल्स की मात्रा ज्यादा होती है और इससे हाइपरपिगमेंटेशन (स्किन के काले धब्बे) का इलाज किया जा सकता है. अनार के छिलके अल्ट्रावायलेट बी (UVB) डैमेज से भी बचा सकते हैं और उम्र बढ़ने के संकेतों को कम कर सकते हैं.

2. पुरानी बीमारियों का खतरा कम
दिल की बीमारी और डायबिटीज जैसी पुरानी बीमारियों के खतरे को अनार के छिलके कम कर सकते हैं. अनार के छिलके का अर्क एक एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट के रूप में काम करके अधिक वजन और मोटापे से ग्रस्त लोगों में कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर लेवल में सुधार करता है.

3. बहरेपन से बचा सकता है
जब उम्र से संबंधित बहरेपन की बात आती है, तो ऑक्सीडेटिव तनाव एक योगदान फैक्टर होता है. क्योंकि अनार के छिलकों में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बहुत ज्यादा होती है, ये बहरेपन को रोकने में मदद कर सकते हैं.

4. दिमाग के काम में सुधार
ऑक्सीडेटिव तनाव अल्जाइमर बीमारी के विकास में एक भूमिका निभाता है. क्योंकि अनार के छिलके एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, वे इस स्थिति वाले लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं.

5. कैंसर से लड़ने वाले गुण
अनार के छिलकों में प्यूनिकलगिन की मात्रा ज्यादा होती है. यह एक पॉलीफेनोल है, जिसे कैंसर विरोधी गुण के रूप में जाना जाता है. स्तन, मुंह और पेट के कैंसर सेल्स में अनार ने एक एंटी-प्रोलाइफरेटिव प्रभाव दिखाया है, जिसका अर्थ है कि यह कैंसर सेल्स के प्रसार को धीमा या रोकने में मदद करता है. इसके अलावा, अनार का छिलका लीवर कैंसर में भी फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि इसमें लीवर की रक्षा करने वाले गुण होते हैं.

6. दांत की सेहत में सुधार
अनार के छिलके से दांतों की अच्छी देखभाल की जा सकती है. ये प्लाक के बनने से रोकने में मदद करता है. अनार के छिलके के अर्क में मजबूत एंटीबैक्टीरियल एक्टिविटी होती है और कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि यह दांत व मसूड़ों की बीमारियों के इलाज में मदद कर सकता है.

अनार के छिलके का इस्तेमाल कैसे करें
अनार के छिलके का पाउडर मार्केट में मिल जाता है या घर में भी बनाया जा सकता है, यदि आप घर पर ही अनार के छिलके का पाउडर बनाना चाहते हैं, तो इन स्टेप्स का पालन करें.

फलों से छिलका अलग कर लें.
छिलकों को 2-3 दिनों के लिए सीधी धूप में रखें, या जब तक वे पूरी तरह से सूख न जाएं.
छिलकों को ब्लेंडर या फूड प्रोसेसर में डालें और बारीक पीस लें.
पाउडर को कमरे के तापमान पर एक एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *