उत्तराखंड राज्य निर्माण में हर क्षेत्र के लोगों की रही भूमिका: डॉ धन सिंह रावत

हरिद्वार । कैबिनेट एवं जिला प्रभारी मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने कहा है कि उत्तराखंड राज्य आंदोलन में हर क्षेत्र से जुड़े लोगों की कहीं न कहीं भूमिका रही है। इन 21 वर्षों में उत्तराखंड का चौमुखी विकास हुआ है। कहा कि कॉलेजों में पढ़ने वाले बच्चों को अगले बीस दिनों में टैबलेट का वितरण कर देंगे। यह बात डॉ धन सिंह रावत ने उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस पर मंगलवार को ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित कार्यक्रम में कही। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार की उपलब्धियों पर आधारित सूचना एवं लोक संपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तिका विकल्प रहित संकल्प, नये इरादे, युवा सरकार, उत्तराखंड विकास के स्वर्णिम पथ पर का विमोचन किया। डा. धन सिंह रावत ने वैक्सीनेशन का उल्लेख करते हुए कहा कि 18 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। 15 दिसंबर तक सभी को दूसरी डोज लग जायेगी। कहा कि जब हम सब स्वस्थ रहेंगे, तभी प्रदेश का विकास होगा। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में डा. धन सिंह रावत ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को नमन करते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में उत्तराखंड राज्य बना था। वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी राज्य को संवारने का कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने एक नई परिपाटी शुरू की है। जिसके अंतर्गत उत्तराखंड स्थापना दिवस को उत्तराखंड महोत्सव के रूप मनाया जा रहा है। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने कहा कि उत्तराखंड अब युवा अवस्था में आ गया है। आने वाले दस वर्षों में यह देश का अग्रणी राज्य बनेगा। इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारंभ डा. धन सिंह रावत, जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय, भाजपा जिलाध्यक्ष डा. जयपाल सिंह चौहान, जिला महामंत्री विकास तिवारी आदि ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। कार्यक्रम के दौरान देव संस्कृति विश्वविद्यालय की छात्राओं ने विभिन्न झलकियों में उत्तराखंड के लोक गीत-हाय तेरी रूमाला, गुलाबी मुखड़ी आदि प्र्रस्तुत किये तथा विश्वविद्यालय के छात्रों ने योग के विभिन्न आसनों को प्रदर्शित किया। कार्यक्रम में वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डा. नरेश चौधरी, चेयरमैन जिला सहकारी बैंक प्रदीप चौधरी समेत भाजपा के स्थानीय नेता व प्रशासनिक समेत विभागीअधिकारी गण शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.