एक्सपायर दवाओं के मामले में स्टोर कीपर और चतुर श्रेणी कर्मचारी निलंबित

रुड़की । एक्सपायर दवाओं को स्टोर में रखे जाने के मामले में स्टोर कीपर और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को निलंबित कर दिया गया है। आउटसोर्स से काम कर रहे छह कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया गया है। 21 अप्रैल को नगर पालिका के कुछ सभासदों द्वारा पालिका कार्यालय पर पहुंचकर जमकर हंगामा किया गया था। सभासदों का आरोप था कि नगर पालिका जिन दवाइयों का सेनेटाइजिंग में प्रयोग कर रही है वह दवाइयां एक्सपायर हैं। जबकि पालिका प्रशासन का कहना है कि वर्ष 2015 में खरीदी गई कुछ दवाइयां स्टोर रूम में सील बंद रखी हुई थी। जिनको प्रयोग नहीं किया गया है। एक्सपायर दवाइयों को स्टोर रूम में क्यों रखा गया इसके लिए स्टोरकीपर तथा उनके सहायकों से जवाब तलब किया गया था जिसके बाद संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर नगर पालिका अध्यक्ष ने अधिशासी अधिकारी शाहिद अली की स्टोर कीपर तारिक खान, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मुरसलीन अहमद को निलंबित कर दिया है। साथ ही आउट सोर्स से काम कर रहे छह कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है। यह सभी कर्मचारी नगर पालिका में आउट सोर्स के माध्यम से अपनी सेवाएं दे रहे थे जो कि सेनेटाइजिंग फागिंग आदि के कार्य में लगे हुए थे। जिन आउटसोर्स कर्मचारियों को नौकरी से हटाया गया है उनमें अखलाक अहमद, खुर्शीद आलम, अतुल कुमार, आजम, शिवा अग्रवाल, नवाजिश अजीम शामिल हैं। अधिशासी अधिकारी शाहिद अली ने बताया कि जांच के बाद कार्रवाई की गई है। इस संबंध में जांच अधिकारी सफाई निरीक्षक आदेश कुमार की जांच आख्या के बाद पाया गया कि स्टोर कीपर व उनके सहयोगियों की लापरवाही के चलते एक्सपायर दवाई स्टोर रूम में रखी रही। जिसके चलते इतना बड़ा विवाद खड़ा हुआ तथा सभासदों में भ्रम की स्थिति बनी। उन्होंने बताया कि नगरपालिका की ओर से सैनिटाइज कराने का कार्य निरंतर जारी है । साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *