ऑनलाइन 20 जून तक अपना विश्वविद्यालय परीक्षा फार्म भरें: डाॅ. बत्रा, आफलाईन परीक्षा विश्वविद्यालय कराएगा सम्पादित

हरिद्वार । एस.एम.जे.एन. काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर की सी.बी.सी.एस. प्रणाली के अन्तर्गत अध्ययरत बी.ए., बी.काॅम., बी.एस.सी. एम.ए. व एम.काॅम. प्रथम सेमेस्टर के मुख्य/बैक पेपर परीक्षा के आवेदन पत्र दिनांक 20 जून, 2021 तक विश्वविद्यालय की वेबसाईट पर लाॅगइन करके भरे जा सकते हैं। डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि स्नातक व स्नातकोत्तर प्रथम सेमेस्टर के जिन छात्र-छात्राओं ने अभी तक अपना परीक्षा फार्म विश्वविद्यालय की वेबसाईट पर आॅनलाईन भरा नहीं है वे अनावश्यक विलम्ब शुल्क से बचने हेतु दिनांक 20 जून, 2020 तक अपना परीक्षा फार्म जमा करा दें। पूरित परीक्षा फार्म की हार्ड काॅपी महाविद्यालय में दिनांक 21 जून तक अनिवार्य रूप से जमा करानी है। आॅनलाईन आवेदन पत्र के साथ काॅलेज शुल्क की रसीद/परिचय पत्र की फोटोकाॅपी, अंकतालिका (स्नातक प्रथम वर्ष हेतु समस्त शैक्षणिक प्रमाण पत्र), माइग्रेशन प्रमाण पत्र, परीक्षा शुल्क की रसीद संलग्न करनी है। यदि किसी छात्र-छात्रा को आॅनलाईन परीक्षा आवेदन पत्र जमा करने में कोई समस्या आती है तो वह विश्वविद्यालय कोर्डिनेटर ई-गर्वनैंस की मेल आईडी पर मेल करके समाधान पा सकते हैं।
डाॅ. बत्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि स्नातक प्रथम सेमेस्टर का परीक्षा आवेदन पत्र आॅनलाईन भरते समय छात्र-छात्रा विशेष ध्यान रखें कि परीक्षा के आवेदन-पत्र आॅनलाईन भरने हेतु छात्र-छात्राओं को विश्वविद्यालय की साईट पर जाकर यूजर आई.डी. एवं पासवर्ड (आधार कार्ड/मोबाईल नम्बर) द्वारा रजिस्ट्रेशन करना होगा। बी.ए., बी.काॅम. तथा बी.एस.सी. प्रथम सेमेस्टर व एम.ए. तथा एम.काॅम. प्रथम सेमेस्टर के छात्र-छात्रा तथा भूतपूर्व छात्र जो बैक पेपर परीक्षा आवेदन-पत्र जमा करना चाहते हैं उनको विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित बैक पेपर परीक्षा शुल्क भी स्वय आॅनलाईन विश्वविद्यालय में जमा कराना होगा। प्राचार्य डाॅ. बत्रा ने बताया कि निर्धारित तिथि तक अपना परीक्षा आवेदन पत्र जमा नही करने पर समस्त उत्तरदायित्व सम्बन्धित छात्र-छात्रा का होगा। उक्त सभी कक्षाओं की विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा जो कि वस्तुनिष्ठ ओ.एम.आर. शीट पर आॅफलाईन सम्पादित की जायेंगी। यहां यह उल्लेखनीय है कि इन छात्रों की आन्तरिक परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के आधार पर महाविद्यालय द्वारा पूर्व में संचालित की जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.