स्पर्श गंगा अभियान के तहत छात्र छात्राओं को दिलाया जाएगा गंगा स्वच्छता का संकल्प, राष्ट्रीय संयोजिका ने कहा गंगा हमारी आस्था का केंद्र बिन्दु

हरिद्वार । स्पर्श गंगा अभियान के तहत बुधवार को जनपद के सभी सरकारी स्कूलों के छात्र छात्राओं को गंगा स्वच्छता का संकल्प दिलाया जाएगा। जानकारी देते हुए स्पर्श गंगा अभियान की राष्ट्रीय संयोजिका तथा केंद्रीय मंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक की पुत्री आरूषि पोखरियाल ने बताया कि मां गंगा को स्वच्छ रखने का यह संकल्प राष्ट्र हित में आम जनमानस का बड़ा योगदान होगा। जिले के ग्यारह सौ स्कूलों में एक साथ छात्रों को गंगा को स्वच्छ, निर्मल, अविरल बनाए रखने का संकल्प दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक कार्यक्रम के तहत एक लाख से अधिक छात्र छात्राएं मां गंगा को स्वच्छत रखने का एक साथ संकल्प लेंगे। पांच हजार शिक्षक भी इसमें शामिल रहते हुए अपना योगदान देंगे। स्र्पश गंगा परिवार निस्वार्थ भाव से पूरे उत्तराखण्ड में गंगा स्वच्छता के लिए लोगों को प्रेरित कर रहा है। अब तो गंगा में विदेशों में गंगा स्वच्छता को लेकर जन जागरूकता फैल रही है।आरूषि ने यह भी कहा कि गंगा हमारी आस्था का केंद्र बिन्दु है। गंगा तटों व गंगा घाटों को स्वच्छ सुन्दर बनाए रखना हमारी नैतिक जिम्मेदारी भी बनती है। गंगा सभी धर्म समुदाय के लिए प्रेरणा का स्रोत है। गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाए रखने के लिए वृहद स्तर पर जनचेतना अभियान चलाए जाने चाहिए। स्पर्श गंगा अभियान के तहत राज्य व केंद्र सरकार अनेकों योजनाएं प्रभावी रूप से लागू भी कर रही है। रीता चमोली ने कहा कि गंगा को स्वच्छ रखने का यह संकल्प अवश्य ही ऐतिहासिक रूप लेगा। एक साथ ग्यारह सौ स्कूलों में जनचेतना फैलायी जाएगी। गंगा को स्वच्छ निर्मल अविरल बनाए रखने के लिए सभी को अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। स्पर्श गंगा अभियान के तहत पूरे प्रदेश में सदस्य गंगा को प्रदूषण मुक्त करने में अपना सहयोग प्रदान कर रहे हैं। यह संकल्प कार्यक्रम अवश्य ही गंगा को प्रदूषण मुक्त करने में सहायक होगा। विशाल गर्ग व आशु चौधरी ने कहा कि निस्वार्थ सेवा भाव से ही गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाया जा सकता है। सामाजिक संगठनों के द्वारा लगातार गंगा को स्वच्छ रखने की अपील भी जागरूकता का बड़ा कारण बन गयी है। स्कूल कालेजों के माध्यम से छात्र छात्राओं को गंगा स्वच्छता के लिए प्रेरित करना बेहतर परिणामों को सामने लाएगा। मन्नु रावत व रूबी बेगम ने कहा कि महिलाएं भी बढ़चढ़ कर गंगा स्वच्छता अभियानों में अपना योगदान देती चली आ रही हैं। स्पर्श गंगा अभियान की टीम लगातार गंगा तटों पर सफाई अभियान को निरंतर चला रही है। सभी को संकल्प के साथ गंगा को अविरल बनाए रखने में अपना योगदान देना चाहिए। इस दौरान रजनी वर्मा, ममता, शीतल पुण्डीर, जोनी लांबा आदि भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *