जिलाधिकारी ने अधिकारियों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सम्बन्ध में दिशा निर्देश दिए

 

हरिद्वार । जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में बुधवार को कैम्प कार्यालय रोशनाबाद में प्रधनमंत्री किसान सम्मान निधि के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित हुई।
बैठक में जिलाधिकारी को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सम्बन्ध में मुख्य कृषि अधिकारी विजय देवराड़ी ने बताया कि यह योजना वर्ष 2019 में लागू की गयी थी, उस समय किसानों को इस योजना का लाभ लेने के लिये आधार आदि आवश्यक नहीं था, लेकिन भारत सरकार द्वारा जारी नये दिशा-निर्देशों के सन्दर्भ में अब इस योजना के लिये आधार नम्बर, बैंक खाता एवं भू-अभिलेख आपस में लिंक होने के साथ-साथ ईकेवाईसी पूर्ण होनी चाहिये। उन्होेंने बताया कि इस योजना में जनपद हरिद्वार से कुल 131230 सक्रिय किसान हैं, जिनमें से काफी किसानों के आधार एवं बैंक खाते आदि लिंक होने हैं।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रधान, आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों, पटवारी, वीडीओ, सीएससी केन्द्रों, राशन की दुकानों (हैण्ड बिल उपलब्ध कराते हुये)के माध्यम से जनपद के इस योजना में सक्रिय किसानों को आधार नम्बर, बैंक खाता एवं भू-अभिलेख आपस में लिंक होने के साथ-साथ ईकेवाईसी करवाने के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराई जाये तथा सबसे पहले ईकेवाईसी पर फोकस किया जाये।

विनय शंकर पाण्डये ने निर्देश दिये कि दो दिन के भीतर इसकी कार्य योजना तैयार कर ली जाये तथा एक अभियान चलाते हुये इस कार्य को 28 जनवरी,2023 तक पूर्ण करना सुनिश्चित करें, जिसकी माॅनिटरिंग सम्बन्धित क्षेत्र के एसडीएम करेंगे।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन, लीड बैंक मैनेजर संजय सन्त, डीपीआरओ अतुल प्रताप सिंह, डीएसओ मुकेश पाल, केबीएसए सोमांश गुप्ता एवं राम कुमार, डीपीओ सुश्री सुलेखा सहगल, डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अभिषेक चौहान, डिस्ट्रिक्ट मैनेजर(सीएससी) पीयूष गुप्ता सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *