महाशिवरात्रि पर मेयर गौरव गोयल ने किया जलाभिषेक, की विशेष पूजा-अर्चना

रुड़की । पश्चिमी अंबर तालाब स्थित माता मनकामेश्वरी दुर्गा देवी मूर्ति स्थापना दिवस के चौथे वार्षिकोत्सव पर पूजा अर्चना ब्राह्मणों द्वारा मंत्रोच्चारण संग पूरे विधि-विधान से संपन्न हुई। मंदिर में चतुर्थ वार्षिकोत्सव पर मां शतचंडी महायज्ञ पाठ की संपूर्ण आहुति मंदिर प्रबंधक सुलेख चंद चंद जैन समस्त जैन परिवार सहित अनेक भक्तजनों द्वारा माता मनकामेश्वरी दुर्गा देवी को छप्पन भोग अर्पण कर महाशिवरात्रि पर्व पर भगवान शिव का गंगाजल, बेलपत्र,धतूरा,बेल इत्यादि शिवप्रिय प्रसाद अर्पण किया गया।समापन अवसर पर फल आदि का वितरण किया गया।वार्षिकोत्सव पर हरिद्वार से पधारे स्वामी रूपेंद्र जी महाराज तथा रुड़की मैयर गौरव गोयल ने दर्शन कर माता का आशीर्वाद प्राप्त किया। स्वामी जी ने कहा कि आज विशेष संयोग है कि माता मन कामेश्वरी वार्षिकोत्सव में महाशिवरात्रि पर्व एक ही दिन है तथा जैन परिवार एवं समस्त भक्तगण इस पवित्र संयोग पर महाशक्ति वह महाकाल शिव की पूजा अर्चना कर अर्पित कर रहे हैं।मेयर गौरव गोयल ने अपने संबोधन में कहा कि माता मनकामेश्वर ही दुर्गा देवी से सच्चे भाव से प्रार्थना करने से सभी मनोकामना पूरी होती है।उन्होंने जैन परिवार का आभार व्यक्त करते हुए माता मनकामेश्वर दुर्गा के चतुर्थ वार्षिकोत्सव पर माता के दर्शन के लिए बुलाकर उन्होंने बड़ा ही पुण्य अर्जित किया है।इस अवसर पर श्रीमती विमला, देवी रेखा जैन,अंतरिक्ष जैन, रक्षक जैन,मनोज जैन, अलका जैन,दीपक जैन, अनुज कुमार जैन,ईशा जैन, सचिन जैन,प्रियंका जैन,यश जैन,कृष जैन,कीर्ति जैन, सचिन जैन,नैना जैन, वर्णिका जैन,सोनू वर्मा,नरेश,रजनी,रीता,माया गुप्ता,अनूप शर्मा,सुरेश पाल,राजू,सुबोध कुमार,जीतू वर्मा,आयुष वर्मा,सुधीर शर्मा,सुरेश गुप्ता,नरेश कुमार,राजेंद्र नीम आदि अनेक भक्तगण मौजूद रहे,वहीं दूसरी ओर मेयर गौरव गोयल ने सिविल लाइन स्थित शिव मंदिर,दुर्गा दुर्गा मंदिर नेहरू स्टेडियम, आदर्श नगर स्थित शिव मंदिर,सिविल लाइन स्थित श्री साईं मंदिर तथा कुष्ठ आश्रम स्थित मंदिर में पूजा अर्चना कर भगवान का आशीर्वाद प्राप्त किया।इस अवसर पर पंडित जगदीश पैन्यूली,समाजसेवी अजय सैनी,पंडित राजीव नयन, प्रधान फूल सिंह,श्रवण कुमार,पवन कुमार,बॉबी अनुराग कौशिक,शीतल कालरा एडवोकेट आदि ने भी पूजा अर्चना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *