उत्तराखंड में भारी बर्फबारी, केदारनाथ धाम में 14 फीट बर्फ जमी, आज फिर कहर बरपाएगा मौसम

देहरादून । उत्तराखंड में मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का दौर जारी है। पिछले एक हफ्ते से हो रही बर्फबारी के कारण केदारनाथ धाम में 14 फीट से अधिक बर्फ जम गई है तो बदरीनाथ धाम में लगभग पांच और हेमकुंड साहिब में छह फीट तक बर्फ जम गई है। द्वितीय केदार मद्महेश्वर व तृतीय केदार तुंगनाथ सहित अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्र भी बर्फ से ढके हैं। बर्फबारी के कारण रुद्रप्रयाग जनपद के गौंडार, तोषी, त्रियुगीनारायण, चिलौंड, चौमासी सहित 30 से अधिक गांवों में लोगों के खेतीबाड़ी, पशुपालन सहित अन्य कार्य प्रभावित हो चुके हैं। चमोली में भी लगातार तीसरे दिन बर्फबारी हुई। बदरीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब में काफी बर्फ जम गई है जबकि बर्फबारी से जोशीमठ-औली, बदरीनाथ हाईवे हनुमान चट्टी से आगे और गोपेश्वर-चोपता-ऊखीमठ हाईवे जगह-जगह बंद हो गए हैं। कुमाऊं में भी कई इलाकों में रात से ही बारिश और बर्फबारी हो रही है। नैनीताल के ऊंचाई वाले हिमालय व्यू और किलबरी क्षेत्र में सुबह बर्फबारी के बाद शीतलहर चल रही है। बागेश्वर जिले में कपकोट, ग्वालदम व पिनाथ की पहाडिय़ों समेत आसपास के गांवों में लगातार हिबर्फबारी हो रहा है। पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में रात से ही बर्फबारी जारी है। इससे थल-मुनस्यारी, दारमा और कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग बंद हो गए हैं। कालामुनि, बिटलीधार, बलाती में दो से तीन फीट तक हिमपात हो चुका है। मुनस्यारी में न्यूनतम तापमान माइनस चार डिग्री सेल्सियस पहुंच चुका है। रानीखेत के चौबटिया, शीतलाखेत व स्याहीदेवी की चोटियों पर सुबह बर्फबारी हुई।पहाड़ी क्षेत्रों में जमकर बर्फबारी हो रही है तो मैदानी इलाकों में बारिश हो रही है, जिसके चलते ठंड का प्रकोप काफी बढ़ गया है और आम जन जीवन भी इससे प्रभावित हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *