मानदेय बढ़ोतरी की मांग को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, सरकार पर लगाया सौतेला व्यवहार करने का आरोप

भगवानपुर । आंगनबाड़ी कार्यकतार्ओं ने भगवानपुर विधायक ममता राकेश के माध्यम से जिलाधिकारी और मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मानदेय बढोत्तरी की मांग की है। आंगनवाड़ी कार्यकतार्ओं ने ज्ञापन में कहा है कि हम गत कई वर्ष से अपने मानदय बढ़ोतरी को लेकर आपसे निवेदन करती रही हैं। राज्य सरकार द्वारा अभी तक भी हमारी माँगो पर कोई विचार नहीं कसी हुए अनदेखा किया जा रहा है जैसा कि आपके सज्ञान में भी है कि केन्द्र सरकार द्वारा हमको मोबाइल फोन भी दे दिये गये हैं, जो कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के लिए बहुत ही परेशानी का कारण बना हुआ है। क्योंकि विभाग में कार्यकत्रियों की नियुक्ति के समय शैक्षिक योग्यता हाई-स्कूल होने के कारण तथा 20 से 25 वर्ष पहले नियुक्त कार्यकत्रियों को उक्त मोबाइल फोन को चलाने में बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। माननीय महोदय आई0सी0डी0एस0 बाल विकास की 6 सेवाओं के अन्तर्गत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को यह काम केवल रजिस्टरों में ही करना पड़ता था लेकिन आज हमें सम्पूर्ण डाटा इन जाइलो के माध्यम से ऑनलाइन विभाग का भेजना पड रहा है। कभी-कभी तो सर्वर डाऊन हो जाने के कारण फीड डाटा भी ट्रांसफर नहीं हो पाता है और डाटा डी-लिट भी हो जात है जिसके कारण कम पढ़ी हुई कार्यकत्रियों को डाटे को पुनः फीड करने में परेशानी हो रही है. जिसके कारण वे डिप्रेशन की शिकार हो रही हैं, लेकिन फिर भी उक्त कार्य को किया जा रहा है।

1 आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को काम के बदले में उचिम मानदेय दिया जाये और हमारा मानदेय कम से कम रू0 18000/माह किया जाये।

2 विभाग द्वारा हम कार्यकत्रियों को जो मोबाइल फोन दिये गये हैं, उनमें एक शर्त यह दी गयी है कि यदि फोन खराब होते है या उसमें कोई इलैक्ट्रोनिक फाल्ट होने से मोबाईल फोन खराब होता है तो उक्त फोन की कीमत की कटौती हमारे मानदेय से की जायेगी, जो कि न्यायोचित नहीं है, और यह मानसिक उत्पीडन करने वाली शत है। अतः इस शर्त को वापिस लिया जाये। हम कार्यकत्रियों को जब विभाग द्वारा मीटिंग आदि के लिए कार्यालय में बुलाया जाता है तो उसके आने-जाने का हमें कोई यात्रा भत्ता नहीं दिया जाता है, मीटिंग में आने-जाने का भत्ता दिया जाये सभी विभाग में कर्मचारियों को बोनस दिया जाता है लेकिन हमें बोनस नहीं दिया जा रहा है। कृपया हमें भी बोनस दिया जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.