आईआईटी रुड़की को जेएएम 2022 के आयोजन की जिम्मेदारी, स्नातक के बाद आईआईटी के विभिन्न डिग्री प्रोग्राम के उम्मीदवारों के लिए योग्यता की प्रवेश परीक्षा है जेएएम

रुड़की । मास्टर्स के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेएएम) ग्रैजुएशन के बाद विभिन्न मास्टर्स (पोस्टग्रैजुएट) प्रोग्रामों के लिए योग्यता की प्रवेश परीक्षा है जैसे कि एम.एससी. (दो वर्षीय), संयुक्त एम.एससी. पीएच.डी., एम.एससी. पीएच.डी. डुअल डिग्री, एम.एससी., एम.एस. (शोध) / पीएच.डी. डुअल डिग्री और स्नातक के बाद के अन्य डिग्री प्रोग्राम जिनका संचालन आईआईटी (भिलाई, भुवनेश्वर, मुंबई, दिल्ली, आईएसएम धनबाद, गांधीनगर, गुवाहाटी, हैदराबाद, इंदौर, जोधपुर, कानपुर, खड़गपुर, मद्रास, मंडी, पलक्कड़, पटना, रुड़की, रोपड़, तिरुपति और बीएचयू वाराणसी मंे किया जाएगा। जेएएम स्कोर के आधार पर आईआईएससी बंगलुरु के इंटीग्रेटेड पीएच.डी. प्रोग्राम में भी प्रवेश मिलेगा। जेएएम की शुरुआत आईआईटी और आईआईएससी. द्वारा शैक्षिक वर्ष 2004-05 में की गई। जेएएम 2022 का आयोजन भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की करेगा। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की के निदेशक प्रो. अजीत के. चतुर्वेदी ने रविवार, 13 फरवरी, 2022 को जेएएम आयोजित किए जाने की घोषणा की है। इच्छुक उम्मीदवारों के लिए 30 अगस्त, 2021 से 11 अक्टूबर, 2021 तक जेएएम का आवेदन पोर्टल खुला रहेगा। जेएएम 2022 में 7 परीक्षा पत्र होंगे जिनके नाम हैं जैव प्रौद्योगिकी (बीटी), रसायन विज्ञान (सीवाई), अर्थशास्त्र (ईएन), भूविज्ञान (जीजी), गणित (एमए), गणितीय सांख्यिकी (एमएस) और भौतिकी (पीएच)। उम्मीदवार एक या दो पत्रों की परीक्षा दे सकते हैं। जेएएम 2022 में भारत के सभी योग्य नागरिक भाग ले सकते हंै और इसके लिए कोई आयु सीमा नहीं है। जेएएम के स्कोर केवल एक वर्ष के लिए वैध होते हैं। जेएएम के स्कोर के आधार पर अन्य केंद्रीय वित्त पोषित प्रौद्योगिकी संस्थानों जैसे एनआईटी, आईआईईएसटी शिबपुर, एसएलआईईटी पंजाब और विभिन्न आईआईएसईआर के पोस्टग्रैजुएट प्रोग्राम में प्रवेश मिल सकता है। जेएएम 2022 के बारे में प्रोफेसर चतुर्वेदी ने बताया, ‘‘जेएएम विज्ञान, गणित और अर्थशास्त्र के उच्च अध्ययन का प्रवेश द्वार है। वर्षों से जेएएम के जरिये आईआईटी/आईआईएससी. में प्रवेश करने वाले विद्यार्थी शिक्षा और कॉर्पोरेट जगत के उच्च स्थान पर पहुंचे हैं। मैं योग्य उम्मीदवारों को प्रोत्साहित करता हूं कि सुनहरा करियर बनाने के लिए इस प्रतिष्ठित परीक्षा में भाग लें। जेएएम 2022 की परीक्षा पूरे देश के विभिन्न शहरों में ऑनलाइन होगी। यह कम्प्युटर आधारित परीक्षा (सीबीटी) है। यह पूरी तरह से वस्तुनिष्ठ परीक्षा है, जिसमें तीन तरह से प्रश्न पूछे जाते हैंः (क) मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चंस (एमसीक्यू), (ख) मल्टीपल सलेक्ट क्वेश्चंस (एमएसक्यू) और (ग) न्युमेरिकल आन्सर टाइप (एनएटी) क्वेश्चंस। हर साल 1 लाख से अधिक उम्मीदवार यह परीक्षा देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.