देश को बांटने का काम कर रही है केंद्र सरकार: हरीश रावत, कांग्रेस सेवादल की ओर से 75 किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो तिरंगा पदयात्रा की शुरुआत

लक्सर । पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि केंद्र की सरकार संविधान की मूल भावना को नष्ट करके जाति, धर्म और भाषा के आधार पर देश को बांटने काम कर रही है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से सत्ता के लिए नहीं बल्कि संविधान की मूल भावना, आस्था और आजादी के मूल्यों को बचाने की लड़ाई लड़ने का आह्वान भी किया। कांग्रेस सेवादल की ओर से आयोजित 75 किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो तिरंगा पदयात्रा की लक्सर से शुरुआत हुई। इस मौके पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि हमारे संविधान में धर्म, भाषा के आधार पर किसी से भेदभाव की इजाजत नहीं है जबकि केंद्र की सरकार संविधान की इसी मूल भावना को नष्ट कर रही है। उन्होंने महिलाओं पर होने वाले अपराधों पर भी केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा किया। कहा कि भाजपा शासित राज्यों में महिला अपराध तीन सौ फीसदी तक बढ़े हैं। भाजपा को इसका जवाब देना चाहिए। सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी भाई देसाई ने कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश में मतदाता भाजपा को नकार चुके हैं। उन्होंने कहा कि आज देश को बचाने के लिए दो रंगों की नहीं बल्कि तिरंगे की जरूरत है। कल्कि पीठ के पीठाधीश्वर आचार्य प्रमोद कृष्णन ने कहा कि पुलवामा में सैनिकों पर हमला देश के लिए एक बड़ी घटना थी लेकिन सरकार इसके पीछे की सच्चाई छिपा गई। उन्होंने न्यायिक अधिकारी के नेतृत्व में एसआईटी बनाकर इसकी जांच की मांग की। सेवादल के प्रदेश मुख्य संगठक राजेश रस्तोगी और मंगलौर विधायक काजी निजामुद्दीन ने भी विचार प्रकट किए। कार्यक्रम में नोमान रजा, डॉ. उमादत्त शर्मा, रेणु नौटियाल, देवेश राणा, सनव्वर राजा, बालेश्वर सिंह, अगम माहेष्वरी, शमशाद सदर, अमित शर्मा, विष्णु विनोद, योगी राकेशनाथ, मनमोहन शर्मा, अनुज दुर्गापाल, प्रदुमन अग्रवाल, संजय दुर्गापाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *