विभागीय समायोजन समेत अन्य लंबित मांगों को लेकर भगवानपुर में मनरेगा कर्मचारियों ने किया कार्यबहिष्कार, सरकार पर लगाया गुमराह करने का आरोप

भगवानपुर। विभागीय समायोजन समेत अन्य लंबित मांगों को लेकर मनरेगा कर्मचारियों ने कार्य का बहिष्कार किया। गुरुवार को भगवानपुर में मनरेगा कर्मचारियों ने महात्मा गांधी नरेगा कर्मचारी संगठन की बैनर तले कार्य का बहिष्कार किया। नाराज कर्मचारी ने कहा कि मांगों के निराकरण को लेकर दो दिन कार्यबहिष्कार किया जा रहा है। कर्मचारियों ने कहा कि वो विगत 8- 10 सालों से विभागीय समायोजन की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार मांगों की अनदेखी कर रही है। इससे कर्मचारियों में रोष है। कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि उन्हें गुमराह किया जा रहा है। इस वजह से मजबूरन कर्मचारियों को हड़ताल की राह पकड़नी पड़ रही है। उन्होंने उपकार्यक्रम अधिकारी, मनरेगा जेई, कंप्यूटर ऑपरेटर, ग्राम रोजगार सहायक, प्रोग्रामर सहित मनरेगा कर्मचारियों को ग्राम विकास विभाग या पंचायती राज विभाग में समायोजित करने, कर्मचारियों को हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर ग्रेड-पे देने, कर्मचारियों को ईपीएफ, बीमा, स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं सरकारी कर्मचारी की तरह देने, राज्य अंश ग्रेड-पे निर्धारण करते हुए मानदेय देने, बिना भत्ते स्थानांतरण कर्मचारियों को पुराने स्थान पर भेजने, उपनल के माध्यम से नहीं रखने, हटाए गए कार्मिकों की पुन बहाली करने, पूरे महीने का मानदेय देने की मांग की हैं। इस दौरान अमृत राठी उप कार्यक्रम अधिकारी, दीपचंद ब्लाक अध्यक्ष, मनोज कुमार त्यागी सचिव, सचिन कुमार कोषाध्यक्ष समेत कई मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *