मेलाधिकारी दीपक रावत ने महामण्डलेश्वर नगर का निरीक्षण किया, कहा तट पर महाकुम्भ तथा माइथोलाॅजी की थीम से सम्बन्धित सैण्ड आर्ट की प्रतियोगिता कराई जाएगी

हरिद्वार । मेला अधिकारी दीपक रावत ने आज महामण्डलेश्वर नगर का कुम्भ की व्यवस्थाओं की तैयारियों की दृष्टि से स्थलीय निरीक्षण किया। मेलाधिकारी ने पूरे महामण्डलेश्वर नगर का निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान कहा कि इस क्षेत्र की भूमि काफी अच्छी स्थिति में होने की वजह से आसानी से विकसित हो जाएगी । इसमें केवल बिजली, पानी तथा शौचालय की व्यवस्था के साथ ही दो-तीन रैम्प बनाने की आवश्यकता है। इसके अतिरिक्त इस क्षेत्र का इसलिये भी और अधिक महत्व है कि यह गौरी शकर दीप से जुड़ा हुआ है। दीपक रावत ने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को यहां पर जो छोटी-छोटी झाड़ियां उगी हैं, उन्हें यथाशीघ्र का साफ करने के निर्देश दिए । मेलाधिकारी ने महामण्डलेश्वर नगर के आखिरी छोर पर गंगा के तट पर काफी लम्बे क्षेत्र में बालू की मौजूदगी को देखते हुये कहा कि इस तट पर महाकुम्भ तथा माइथोलाॅजी की थीम से सम्बन्धित सैण्ड आर्ट की प्रतियोगिता कराई जायेगी, जिन्हें श्रद्धालु तट के उस पार से भी आसीनी से देख सकेंगे। इस मौके पर पत्रकारों द्वारा मेलाधिकारी से कुम्भ को देखते हुये कोरोना वैक्सीन की और मांग करने के बारे में पूछने पर मेलाधिकारी ने कहा कि हमारा उद्देश्य अग्रिम पक्तियों में काम करने वाले अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन की सुविधा उपलब्ध कराना है। उन्होंने पत्रकारों को यह भी बताया कि ललतारों पुल पर एचआरडीए के माध्यम से लाइटिंग की बेहतरीन व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने कहा कि कुम्भ से सम्बन्धित सारे कार्य समय से पूर्ण हो जायेंगे। इस अवसर पर अपर मेलाधिकारी हरवीर सिंह, उप मेलाधिकारी- अशुल सिंह, दयानन्द सरस्वती, किशन सिंह नेगी, सी0ओ0, पी0सी0 देवली, तहसीलदार, मंजीत सिंह, लोक निर्माण, विद्युत, जल संस्थान सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *