गन्ना मंत्री स्वामी यतीश्वरानन्द ने इकबालपुर शुगर मिल का किया औचक निरीक्षण, तत्काल दिए मिल को किसानों के गन्ना का भुगतान करने के निर्देश

रुड़की । गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग मंत्री स्वामी यतीश्वरानन्द गन्ना भुगतान में देरी को लेकर इकबालपुर शुगर मिल पर किसानों के बकाया गन्ना भुगतान की लगातार मिल रही शिकायतों का संज्ञान लेते हुए आज इकबालपुर शुगर मिल का औचक निरीक्षण किया। क्षेत्रीय किसानों का आरोप था कि मिल प्रबंधन भंडारण में रखी चीनी को लगातार चोरी छिपे बेच रहा है लेकिन किसानो का भुगतान नही कर रहा है। इस पर गन्ना मंत्री सुबह ही इकबालपुर शुगर मिल पहुंचे। सूचना मिलते ही क्षेत्रीय किसान भी पहुंच गए।
इकबालपुर शुगर मिल पहुंचते ही गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग मंत्री स्वामी यतीश्वरानन्द ने किसानों के सामने ही मिल प्रबंधन पहले इस सत्र का बकाया भुगतान की जानकारी ली। उन्होंने इस पेराई सत्र में गन्ने की पेराई, चीनी का उत्पादन और बिक्री के अनुपात में किसानों के भुगतान की जानकारी ली। गन्ना मंत्री ने बकाया भुगतान के अनुसार भंडारण में चीनी की जानकारी ली तो किसानों ने आरोप लगाया कि प्रबंधन लगातार चीनी बेच रहा है। जिस पर मंत्री ने मिल के सभी भंडारण का निरीक्षण किया। उन्होंने सख्त लहजे में मिल प्रबंधन को स्पष्ट कहा कि किसी भी कीमत पर किसानों के बकाया भुगतान में लेटलतीफी बर्दाश्त नही होगी।
मन्त्री स्वामी यतीश्वरानन्द ने मिल प्रबंधन से कहा कि यदि तत्काल भुगतान न हुआ तो आरसी कटेगी और मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा। पिछले वर्षो 2017-18 के बकाया पर उच्च न्यायालय में चल रहे वाद में भी मंत्री ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि किसानों का पक्ष मजबूती से रखा जाए। उन्होंने कहा कि पिछले वर्षों का भुगतान भी करना ही पड़ेगा। मंत्री ने कहा कि यदि पिछला व इस सत्र का भुगतान समय पर नही किया गया तो वह अन्य चीनी मिलों के तौल केंद्र क्षेत्र में लगवा देंगे।
मंत्री की सख्ती को देखते हुए इकबालपुर मिल प्रबंधन ने इस सत्र का जल्द भुगतान करने का भरोसा दिया। गन्ना मंत्री ने इकबालपुर शुगर मिल के सभी चीनी भंडारण का निरीक्षण किया और उपलब्ध चीनी की जानकारी ली। मंत्री की जानकारी मिलने पर मिल में पहुंव्हे किसानों में मिल प्रबंधन के खिलाफ आक्रोश था। उनका कहना था कि गन्ना किसानों की वजह से मिल को फायदा हो रहा है लेकिन मिल प्रबंधन की बंदरबांट के कारण किसान परेशानी झेल रहा है। इस पर मंत्री ने कहा कि अब आगे किसानों को समस्याएं नही होंगी, वह खुद एक किसान है और गन्ना किसानों की समस्याओं को भलीभाँति समझते है। मंत्री की इस कार्रवाई पर किसानों ने प्रसन्नता जाहिर की। इस अवसर पर सहायक गन्ना विकास अधिकारी शैलेन्द्र सिंह, झबरेड़ा नगरपालिका चेयरमैन, मानवेन्द्र सिंह, गौरव गोयल, अमन त्यागी, मांगेराम चेयरमैन, चौधरी रामपाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.