ड्यूटी से नाराज बीएसएफ जवान ने अंधाधुंध फायरिंग कर चार साथियों को मार डाला, फिर खुद को मार ली गोली

अमृतसर । अमृतसर में बार्डर सिक्योरिटी फोर्स के खासा हेडक्वार्टर में रविवार सुबह ड्यूटी से नाराज एक जवान ने अपने ही साथियों पर फायरिंग कर दी। अपने साथियों पर फायरिंग करने के बाद जवान ने खुद को भी गोली मार ली। गोलीबारी में आरोपी समेत पांच जवानों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक अमृतसर से करीब 13 किलोमीटर दूर स्थित बीएसएफ खासा हेडक्वार्टर में बीएसएफ की 144 बटालियन तैनात है। सीमा पर ड्यूटी को लेकर कांस्टेबल सत्तेप्पा एसके अपने अधिकारियों के साथ नाराज चल रहा था।रविवार सुबह मेस में उसने अपनी सर्विस राइफल के साथ अंधाधुंध फायरिंग कर दी। अपने साथियों पर फायरिंग करने के बाद उसने खुद को भी गोली मार दी। गोलीबारी में सत्तेप्पा समेत पांच जवानों की मौत हो गई। वहीं बल के आधा दर्जन जवान घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि घटना रविवार सुबह साढ़े नौ बजे से पौने दस बजे के बीच हुई। कांस्टेबल सतेप्पा एसके ने अपनी सर्विस राइफल का इस्तेमाल किया। खासा इलाके में 144वीं बटालियन के परिसर में जहां यह घटना हुई, वह अटारी-वाघा सीमा से करीब 12-13 किलोमीटर दूर है। हताहतों में कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल रैंक के कर्मी शामिल हैं। बीएसएफ प्रवक्ता ने बताया कि घटना के तथ्यों का पता लगाने के लिए कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश दिया गया है।अमृतसर के खासा स्थित बीएसएफ कैंप में शुक्रवार सुबह बड़ी घटना हुई। यहां एक जवान सर्विस राइफल लेकर मेस में पहुंचा और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी, जिससे चार जवानों की मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *