नया भारत बनाने की पीएम मोदी की सोच को पूरा करने के लिए देश को जल समृद्ध बनाना जरूरी: गजेंद्र शेखावत, केंद्रीय मंत्री ने हल्द्वानी में राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ किया

देहरादून / हल्द्वानी । नैनीताल उत्तराखंड प्रशासन अकादमी में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने लिए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत पहुंचे। सचिव मुख्यमंत्री व निदेशक एटीआई राजीव रौतेला ने केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जिसके बाद केंद्रीय मंत्री ने अकादमी में आयोजित राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ किया। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने कहा कि नया भारत बनाने की प्रधानमंत्री मोदी की सोच को पूरा करने के लिए देश को जल समृद्ध बनाना जरूरी है। पर्वतीय राज्यों में जलवायु परिवर्तन के खतरों के बीच जल संसाधनों को पुनर्जीवित करना बड़ी चुनौती है। नदी, नाले, गाड़ गधेराें को पुनर्जीवित करने के लिए हर स्तर पर प्रयास करने होंगे। देश के 15 करोड़ घरों तक पेयजल पहुंचाने के लिए साढ़े तीन लाख करोड़ खर्च किया जाएगा। पांच साल के भीतर राज्यों के साथ मिलकर लक्ष्य से अधिक व समय से पहले योजना पूरी करने की नई परंपरा विकसित की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हर घर को शुद्ध जल उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि 16 जुलाई 2020 को हरेला पर्व पर पूरे प्रदेश में पौधरोपण किया जाएगा। उन्होंने हरेला पर सार्वजनिक अवकाश की घोषणा भी की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कोसी व देहरादून की रिस्पना नदी को पुनर्जीवित करने के अभियान की जानकारी दी।ने मुख्यमंत्री व केंद्रीय मंत्री समेत अन्य प्रतिभागियों का स्वागत किया। वहीं हल्द्वानी में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज नैनीताल जिले के लिए एक अरब रुपये से ज्यादा की योजनाओं की घोषणा की। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रेस वार्ता में कहा कि कांग्रेस लालटेन से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को तलाश रही थी। कांग्रेस को वह मिल गए। पहले मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर द्वारा हल्द्वानी पहुंचने वाले थे, लेकिन मौसम खराब होने के कारण हेलीकॉप्टर उड़ान नहीं भर सका। इस वजह से उन्हें सड़क मार्ग से जाना पड़ा। वहीं मुख्यमंत्री के पहुंचने से ठीक पहले कांग्रेस ने उनका पुरजोर विरोध किया। कांग्रेस नेता सुमित ह्रदयेश के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कार्यक्रम स्थल से कुछ दूरी पर पुलिस ने दर्जनों प्रदर्शनकारी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। इस दौरान कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री वापस जाओ, सस्ती शराब बंद करो, युवाओं को रोजगार देने के नारे लगाए। इस दौरान उन्होंने काले झंडे भी दिखाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *