स्पर्श गंगा के साहित्य सेतु प्रकोष्ठ की गंगा एवं साहित्य विमर्श संगोष्ठी आयोजित, सीमित सभा में व्याख्यान का लाइव प्रसारण जारी रखा गया

हरिद्वार । रविवार को स्पर्श गंगा के साहित्य सेतु प्रकोष्ठ की गंगा एवं साहित्य विमर्श संगोष्ठी आयोजित की गई। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सुपरिचित साहित्यकार, देवो के देव महादेव के लेखक निलय उपाध्याय ने अपने ओजपूर्ण गंगा एवं साहित्य व्याख्यान से सब को अभिभूत किया, भावुकता और सम्वेदनशीलता से समाज में व्याप्त साहित्यकारों के दायित्व बोध पर उन्होंने विशेष जोर दिया। सीमित सभा में व्याख्यान का लाइव प्रसारण जारी रखा गया। संगोष्ठी की अध्यक्षता रीता चमोली ने की तथा कार्यक्रम की सचिव डॉ मेनका त्रिपाठी तथा संगोष्ठी में उपस्थित समाजसेवी प्रफुल्ल ध्यानी, अविक्षित रमन राजीव शर्मा , मनु रावत सपना अरोड़ा तथा, मनुज रजनीश को निशंक जी ने वीडियो कॉल के जरिए शुभकामना संदेश दिया तथा इस अभियान को आगे भी जारी रखने का संदेश दिया। कार्यक्रम में अध्यात्म, प्रभव, आराध्या त्रिपाठी की गंगा स्तुति नृत्य ने सबका मन मोह लिया। कार्यक्रम में रेणु, मोहित, मनप्रीत, प्रिया, भारती, गीतांजली एवं आराध्य शर्मा शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.