भगवान परशुराम का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा, परशुराम भगवा वाहिनी ने लाॅकडाउन का पालन कर घरों में जयंती मनाने के लिए आव्हान किया

भगवानपुर । भगवान परशुराम का जन्मोत्सव 26 अप्रैल को मनाया जाएगा परशुराम जयंती भगवान परशुराम का जन्मोत्सव है। हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार ,भगवान परशुराम जगत के पालनहार विष्णु जी के छठे अवतार है, यह पर्व पूरे भारत में धूम-धाम के साथ मनाया जाता है! नगर में भगवान परशुराम की झांकियां निकाली जाती है। लेकिन इस साल कोरोना वायरस के चलते, पूरे भारत देश में लॉकडाउन लगा होने के कारण इस पर्व की रौनक फीकी रहेंगी। भगवानपुर परशुराम भगवा वाहिनी के अध्यक्ष सुनील उर्फ कुक्कू पंडित आजाद क्रांतिकारी ने बताया कि इस वर्ष 26 अप्रैल को भगवान परशुराम जन्मोत्सव मनाया जा रहा है! उन्होंने समस्त ब्राह्मण समाज से आह्वान किया कि लॉकडाउन के चलते अपने घरों में रहकर ही सादे ढंग से घर – घर पूजा – अर्चना कर दीप प्रज्जवलित कर भगवान परशुराम जन्मोत्सव मनाएं ।वर्तमान में कोरोना प्रकोप के कारण जयंती समारोह नहीं किया जाएगा। सुबह घरों में पूजा-अर्चना और शाम को घर के मुख्य द्वार व घर की छत पर दीप प्रज्ज्वलित किया जाएगा! हम सब मिलकर दीप प्रकाश को जलाकर आकाश को जगमग कर दें और पूरे विश्व में एकता की नई मिसाल दें! वे यहां भगवानपुर स्थित अपने निवास पर जानकारी दे रहे थे। उन्होंने कहा घर पर सोशल डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखें भगवान परशुराम जन्मोत्सव जयंती पर जरूरतमंद लोगों को भोजन वितरित करें! ऐसा कर पुण्य के भागी बने! उन्होंने कहा कि समाज में रहने वाले सभी वर्ग प्रधानमंत्री के आह्वान पर कोरोना की चैन तोड़ने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का पालन करें, और अपने घरों में रहकर सच्ची देशभक्ति का परिचय दें। इस अवसर पर अंकुश पंडित , शुभम पंडित चाणक्य, विनीत शर्मा, निशांत शर्मा, संजय बजरंगी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *