पिरान कलियर मेले के संबंध में जिलाधिकारी सी रविशंकर की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक, कहा कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए सफल आयोजन एक नया अनुभव होगा

हरिद्वार । जिलाधिकारी हरिद्वार श्री सी0 रविशंकर की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पिरान कलियर मेले के आयोजन के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने मेलों और आयोजनों का जिक्र करते हुये कहा कि हमने कोविड की परिस्थितियों को देखते हुये हरिद्वार में आयोजित होने वाले मेलों व आयोजनों जैसे- कांवड़ मेला हो, मौनी अमवस्या हो आदि को प्रतीकात्मक रूप से आयोजित किया। अब देश अथवा प्रदेश धीरे-धीरे अनलाॅक की ओर कदम रख रहा है। ऐसे में पिरान कलियर का कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुये सफल आयोजन हमारे लिये एक नया अनुभव होगा। जिलाधिकारी ने बैठक में अधिकारियों एवं पिरान कलियर मेले के आयोजकों से पूर्व वर्षों में मेले में आने वाले प्रतिदिन कुल श्रद्धालुओं की संख्या, किन-किन माध्यमों से जैसे-रेल, बस, हवाई जहाज, अपने निजी साधनों से श्रद्धालु आते हैं, मेले में प्रवेश के लिये पास आदि की क्या व्यवस्था होती थी, पार्किंग की क्या व्यवस्था है, बिजली, पानी आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि पूर्व वर्षों में मुख्य आयोजन के समय लगभग एक लाख श्रद्धालु प्रतिदिन आते थे। यह मेला लगभग 15 दिन या उससे अधिक लगता है। झूला, घोड़ा गाड़ी आदि के लिये टेण्डर किये जाते हैं। पार्किंग के सम्बन्ध में जिलाधिकारी को अधिकारियों ने बताया कि यहां पार्किंग के लिये काफी स्थान है। पदाधिकारियों ने बताया कि ज्यादातर जायरिन बाहर से आते हैं। सी0 रविशंकर ने कोविड-19 का जिक्र करते हुये कहा कि मेले के आयोजन के लिये हमें भारत सरकार द्वारा कोविड-19 हेतु जारी गाइड लाइन का पूरा पालन करना होगा। इतनी बड़ी तादात में आने वाले श्रद्धालुओं का प्रबन्धन काफी मुश्किल है, क्योंकि जितनी ज्यादा संख्या में लोग आयेंगे उनके संक्रमित होने की आशंका उतनी ही ज्यादा होगी। हमें इसमें सोशल डिस्टिेंसिंग का पूरा ध्यान रखना होगा। मेले में आने वाले श्रद्धालुओं का वेब पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था करनी होगी। रजिस्टेªशन के लिये 72 घण्टे पूर्व की निगेटिव रिपोर्ट ही मान्य होगी ताकि पोर्टल पर अधिक लोड न पड़े। मेले मेें प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था आवश्यक होगी। इसके अतिरिक्त पूरे मेले परिसर में सेनेटाइजिंग की व्यवस्था करनी होगी।जिलाधिकारी ने अधिकारियों एवं पिरान कलियर मेले से जुड़े पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि वे दो दिन के भीतर मेले के आयोजन के सम्बन्ध में कोविड-19 को दृष्टि में रखते हुये एक विस्तृत योजना सभी पहलुओं का ध्यान रखते हुये प्रस्तुत करें। बैठक में सुश्री नमामि बसंल, संयुक्त मजिस्ट्रेट, आलोक बनवान, सहायक महाप्रबन्धक, रोडवेज, विनोद कुमार श्रेय, इ0ओ0 नगर पंचायत, राजीव सैनी एक्सईएन, जल संस्थान, अम्बिका यादव, एसडीओ, रूड़की, एस0ओ0, पिरान कलियर, परवेज आलम, प्रबन्धक दरगाह पिरान कलियर, सज्जादा परिवार से जुडे़ अली एजाज साबरी, नायब सज्जादा नसीम, मोहसिन सिद्दकी, असद साबरी, अफजल सिद्दीकी एवं अन्य अधिकारी व पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *