झबरेड़ा में रोजगार मेले आयोजित किए जाने के के संबंध में बैठक, 250 से अधिक कम्पनियों से सम्पर्क स्थापित किया गया

हरिद्वार । जिलाधिकारी सी. रविशंकर की अध्यक्षता में आज मेला नियंत्रण भवन(सीसीआर) में झबरेड़ा विधान सभा क्षेत्र में रोजगार मेला आयोजित किए जाने के सम्बन्ध में बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिलाधिकारी को अधिकारियों ने बताया कि 250 से अधिक कम्पनियों से सम्पर्क स्थापित किया गया है। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि यह अच्छी शुरूआत है। जिलाधिकारी ने अधिकारियों से पूछा कि आप 15 दिन के भीतर रोजगार मेला आयोजित करा सकते हैं, इस पर अधिकारियों ने बताया कि जो बच्चे स्थायी रूप से वहां निवास कर रहे हैं, उनके मोबाइल नम्बर तो हैं, वे लगभग पांच-छह हजार के करीब होंगे। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि इसके लिये सभी एरिया के बच्चों को सूचित करते हुये शामिल करिये। आप बल्क एसएमएस भी भेज सकते हैं। इस पर अधिकारियों ने विचार-विमर्श के लिये समय मांगते हुये यथाशीघ्र बताने की बात कही। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आप एक ऐसा सिस्टम विकसित करिये, जिसमें बेरोजगार लोगों का पूरा डाॅटा हो, उसको विभिन्न श्रेणियों में बांटते हुये उसी अनुसार उनको रोजगार मुहैया करायें। जो अकुशल हैं, उन्हें विभिन्न योजनाओं में प्रशिक्षण दिलाकर रोजगार उपलब्ध कराने में उनकी मदद करें तथा सेल्फ इंप्लाइमेंट के लिये भी प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि आपको बच्चों तक पहुंचने का तरीका निकालना होगा तथा सोशल मीडिया का भी सहारा लेना होगा। उन्होंने कहा कि जिन बच्चों को रोजगार की सख्त जरूरत है, उन्हें आपके माध्यम से मदद हो जाएगी । जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि आप रोजगार देने वाले जितने भी विभाग या संस्थायें हैं, उनसे समन्वय स्थापित करते हुये रोजगार से जुड़ी हुई जितनी योजनायें हैं, उनकी एक बुकलेट तैयार कर लें, जिसमें किस रोजगार के लिये किस तरह की योग्यता की आवश्यकता है, उसका पूरा विवरण उसमें स्पष्ट होना चाहिये ताकि आवेदक अपनी योग्यता के अनुसार सही चुनाव कर सके। उन्होंने कहा कि उद्योगों/संस्थाओं/ विभागों की जिस तरह की आवश्यकतायें हैं, उसी अनुसार बच्चों को कुशल बनाया जाना चाहिए । बैठक में श्री उत्तम कुमार, जिला सेवायोजन अधिकारी, जी0एस0 रावत, आरएम, सिडकुल, सुश्री पल्लवी गुप्ता, जीएमडीआईसी, अरविन्द सैनी, सहायक श्रम आयुक्त आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *