स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए पुरुषों जरूर खाएं ये 6 सुपर फूड्स, दुनियाभर में हर छह में से एक जोड़े को बांझपन की समस्या का सामना करना पड़ रहा

यदि आप और आपकी पार्टनर गर्भवती होने में परेशानी हो रही है तो आप अकेले नहीं हैं. जितना आप सोच सकते हैं, उससे कहीं अधिक बार ऐसा होता है. कम से कम छह में से एक जोड़े को बांझपन की समस्या का सामना करना पड़ता है, तीन मामलों में से एक पुरुष में कम शुक्राणुओं की संख्या (sperm count) और मोबिलिटी के कारण होता है। ह्यूमन रिप्रोडक्शन अपडेट जर्नल में प्रकाशित एक नए रिसर्च शोध के अनुसार, भारत सहित हर जगह स्पर्म काउंट में गिरावट आई है. रिसर्च दक्षिण अमेरिका, एशिया और अफ्रीका में पुरुषों में स्पर्म काउंट की संख्या में बदलाव पर फोकस है. साल 2000 के बाद से स्पर्म काउंट में गिरावट आई है, जो पिछले 46 सालों में 50% कम हो गई है. इसलिए यह पुरुषों (जो विशेष रूप से बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं) के लिए महत्वपूर्ण हो जाता है कि बैलेंस डाइट, विटामिन और अन्य लाइफस्टाइल विकल्पों के कंबाइन करने की कोशिश करें, जो स्पर्म काउंट को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं.

स्पर्म काउंट और मोबिलिटी बढ़ाने के लिए इन 6 फूड को अपने डाइट में शामिल करें… 

1. जिंक रिच फूड
बीन्स, जौ, रेड मीट और अन्य जैसे फूड जिंक से भरपूर होते हैं, जो स्पर्म के निर्माण में मदद करने के लिए महत्वपूर्ण हैं. अंडकोष में मिनरल हाई अनुपात में मौजूद होता है, जो मजबूत वीर्य (semen) पैदा करता है. जिंक इतना आवश्यक है कि स्पर्म की गतिशीलता में कमी को जिंक की कमी से जोड़ा गया है.

2. अनार
यह स्वादिष्ट फल वीर्य की गुणवत्ता में सुधार करते हुए स्पर्म के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए प्रसिद्ध है. फल में शामिल एंटीऑक्सीडेंट सक्रिय रूप से खून में फ्री रेडिकल्स से लड़ते हैं. अगर इन्हें अनियंत्रित छोड़ दिया जाए, तो ये वीर्य को खत्म कर सकते हैं और आपके स्पर्म काउंट को काफी कम कर सकते हैं.

3. अखरोट
अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो अंडकोष में खून के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है. इसके बदले में स्पर्म की मात्रा और उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिलती है. अखरोट में बहुत सारे आर्गिनिन भी होते हैं, जो वीर्य को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं.

4. केला
केले में विटामिन ए, बी1 और सी होते हैं, जो आपके शरीर को बेहतर स्पर्म बनाने और उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करते हैं. इसमें ब्रोमेलैन नामक एक दुर्लभ एंजाइम भी मौजूद होता है, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो स्पर्म की गतिशीलता और संख्या को बढ़ाता है.

5. पालक
पालक में फोलिक एसिड होता है, जो हेल्दी स्पर्म के विकास को बढ़ावा देता है. पालक और अन्य जैसे हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन प्रचुर मात्रा में होता है. कम फोलेट का लेवल संरचनात्मक दोषों के साथ स्पर्म पैदा करने का जोखिम बढ़ाता है. नतीजतन, स्पर्म अंडे की सुरक्षात्मक परत में प्रवेश करने और अंडे तक पहुंचने के लिए संघर्ष करेगा.

6. ब्रोकली
ब्रोकली में फोलिक एसिड भी होता है, जिसे अक्सर विटामिन बी 9 के रूप में जाना जाता है. यह लंबे समय से पुरुषों में स्पर्म काउंट को 70 प्रतिशत तक बढ़ाकर महिला गर्भधारण में सहायता के लिए जाना जाता है.

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *