श्यामपुर थाने में समर्थकों संग धरने पर बैठी विधायक अनुपमा रावत, कहा भाजपा के दबाव में काम कर रही हैं पुलिस

हरिद्वार। होली के दिन अलग-अलग समुदाय से जुड़े दो पक्षों में हुए झगड़े के मामले में कार्रवाई ना होने पर भड़की हरिद्वार ग्रामीण से कांग्रेस की विधायक पूर्व सीएम हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत समर्थकों के साथ श्यामपुर थाने में धरने पर बैठ गयी है। विधायक अनुपमा का आरोप है कि पुलिस भाजपा नेताओं के दबाव में आकर दोषियो के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है। बताते चले कि इस मामले में मुकदमा दोनो तरफ से दर्ज है। मुकदमे में भाजपा मंडल अध्यक्ष आलोक द्विवेदी भी नामजद है। उधर भाजपा की ओर से भी दूसरे समुदाय के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठ रही है। होली के दिन जुमे की नमाज अदा कर लौट रहे कांग्रेस नेता नजर अंसारी के परिवार व भाजपा मंडल अध्यक्ष आलोक द्विवेदी पक्ष के बीच रंग ड़ालने को लेकर झगड़ा हो गया था। नजर हसन परिवार के तीन लोग जख्मी हो गये थे। मामले ने तूल पकड़ लिया था। हिंदूवादी संगठन सड़को पर उतर आये थे। पुलिस ने लाठियां फटकाकर भीड़ को तितर-बितर किया था।आलोक द्विवेदी की तरफ से नजर हसन अंसारी, उनके बेट एडवोकेट अरबाज अंसारी सहित लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, आलोक द्विवेदी आदि के खिलाफ भी बलवा, मारपीट जैसी धाराओं में मुकदमा दर्ज है। नजर हसन का आरोप है कि भाजपा नेताओं पर धारा 307 नहीं लगायी गयी है। इसी मामले को लेकर कांग्रेस विधायक अनुपमा रावत श्यामपुर थाने पहंुच गयी और पुलिस पर पक्षपात का आरोप लगाते हुए फिलवक्त धरने पर बैठी हुई हैै। अनुपमा रावत भाजपा नेताओं की गिरफ्तारी की मांग पर अड़िग है। धरने पर कांग्रेस के कई दर्जन कार्यकर्ता मौजूद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *