औद्योगिक आपदाओं की सम्वेदनशीलता के दृष्टिगत रासायनिक आपदा विषय पर माॅक अभ्यास किया गया, जिलाधिकारी सी. रविशंकर ने आई0आर0टी0 को निर्देश कर आपातकालीन बैठक बुलाते हुए कार्यवाई करने के दिए निर्देश

हरिद्वार । राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण भारत सरकार के सहयोग से राज्य आपदा प्रबन्धन एवं पुनर्वास विभाग उत्तराखण्ड शासन द्वारा जनपद हरिद्वार में औद्योगिक आपदाओं की सम्वेदनशीलता के दृष्टिगत रासायनिक आपदा विषय पर आज दिनांक 12 फरवरी 2020 को माॅक अभ्यास किया गया । दिनांक 11.02.2020 की मध्यरात्रि को जनपद रूद्रप्रयाग में घटित भूकम्प की घटना से मध्यरात्रि में सिडकुल अवस्थित औद्योगिक इकाईयों के प्रभावित होने की सूचना मिली है जिसमें बी0एच0ई0एल0 में हुई दुर्घटना में 15 लोगो को कुछ चोटें आयी है जिसके मद्देनजर आई0आर0टी0 को निर्देश कर जिलाधिकारी(आर0ओ0) सी0रविशंकर द्वारा आपातकालीन बैठक बुलाते हुए कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये । बी0एच0ई0एल0 प्लांट में नेचुरल गैस पाइप लाईन में गैस रिसाव के कारण 15 लोगो के घायल होने की सूचना मिलने पर स्टेजिंग एरिया मैनेजर द्वारा एस0डी0आर0एफ0 की एक टीम राहत बचाव कार्य के रवाना की गई। रैस्क्यू टीम द्वारा घायल व्यक्तियों को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय तथा आंशिक रूप से घायल व्यक्तियों का उपचार घटनास्थल पर ही किया गया । भूकम्प से बहादराबाद व एल0पी0जी0 गैस प्लांट एवं बी0एच0ई0एल0 में गैस रिसाव के मद्देनजर जिला प्रशासन ने घटना स्थल पर राहत टीम रवाना की गयी। राहत टीम में बचाव दल के साथ मेडिकल टीम भी रवाना की गयी। आपदा से जुड़े विभिन्न विभागों द्वारा आपातकालीन रणनीति तैयार कर बचाव कार्य युद्ध स्तर पर शुरू किया गया । प्रशासन द्वारा बहादराबाद बाटलिंग प्लांट हेतु 02 फायर टैंकर के अलावा एन0डी0आर0एफ0 की 10 तथा एस0डी0आर0एफ0 की 10 टीमों के अतिरिक्त स्वयंसेवी संस्था की 50 टीम भेजी गयी है । दुर्घटना को देखते हुए जिलाधिकारी(आर0ओ0) द्वारा सेना को अपनी टीम घटना स्थल पर भेजने व टीम को आनन्द स्वरूप हायर सैकेण्डरी विद्यालय बिझौली में स्टेजिंग एरिया मैनेजर को रिपोर्ट करने हेतु कहा गया। बहादराबाद बाटंिलंग प्लांट में 05 लोगो के घायल होने की सूचना प्राप्त होने पर एस0डी0आर0एफ0 की टीम को राहत बचाव कार्य शुरू किया। रेस्क्यू टीम द्वारा राहत बचाव कार्य के अन्तर्गत फंसे मजदूरों एवं घायल व्यक्तियों को उपचार हेतु भूमानन्द चिकित्सालय भेजा गया है तथा घटना स्थल पर राहत बचाव कार्य पूर्ण कर लिया गया । लंढौरा में भी बायलर रूम में ब्लास्ट होने से 07 मजदूर फंस गये है। बाटलिंग प्लांट बहादराबाद में आई0ए0पी0 तैयार कर दी गयी है तथा बी0एच0ई0एल0 गैस्ट से रेस्क्यू टीम घटना स्थल हेतु रवाना कर दी गयी है। आवासीय क्षेत्र भेल में 03 महिलाओं व 02 बुजुर्ग गम्भीर रूप से घायल हो गये तथा 50 आंशिक रूप से अधिक लोग घायल हो गये है। आग की घटना से एन0एच0 54 पर लम्बा जाम लग गया है। लंढौरा स्थित इण्डियन आॅयल कारपोरेशन में रेस्क्यू टीम द्वारा राहत व बचाव का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। गंभीर रूप से 02 घायल व्यक्तियों को सड़क मार्ग द्वारा एम्स ऋषिकेश रेफर किया गया है। अन्य सभी घायल व्यक्तियों को उपचार हेतु सिविल अस्पताल रूड़की रेफर किया गया । राहत एवं बचाव कार्यों में पुलिस, राजस्व, मेडिकल, एस0डी0आर0एफ0, एन0डी0आर0एफ0, सेना, होमगार्ड, पी0आर0डी0, स्वैच्छिक संगठन, आपदा मित्र स्वयंसेवक, फायर ब्रिगेड आदि द्वारा सहयोग किया गया । माॅकड्रिल के बाद जिलाधिकारी द्वारा सभी विभागों की टीम के कार्यों की समीक्षा की गई । उन्होने इस अभ्यास में छोटे से लेकर बड़े अधिकारी की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। उन्होने कहा कि यदि किसी भी अधिकारी/कर्मचारी को कही कोई समस्या किसी गतिविधि को संचालित करते हुए हुई है तो उसे साझा करें ताकि वास्तविक घटना की स्थिति में बाधा से बचा जा सके और राहत और बचाव कार्य को सफलता पूर्वक सम्पन्न किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *