हिंदू नववर्ष के आगमन पर नौ दिवसीय मां चण्डी यज्ञ प्रारम्भ, कोरोना संकट से मुक्ति दिलाने के लिए आहुति दी गई

हरिद्वार । हिंदू नववर्ष के आगमन पर श्री ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने परिवार सहित अपने आवास पर नौ दिवसीय मां चण्डी यज्ञ प्रारम्भ किया। कोरोना के संकट से पीड़ित समस्त मानव जाति को मुक्ति दिलाने के लिए यज्ञ में आहुति डालकर मां चण्डी से प्रार्थना की गयी। इस दौरान पंडित अधीर कौशिक ने सभी को हिंदू नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस समय पूरी दुनिया कोरोना संकट से घिरी हुई है। भारत में भी इसके मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ऐसे में पीड़ित मानवता को इस संकट से मुक्ति दिलाने के लिए मां चण्डी के निमित्त नौ दिवसीय यज्ञ शुरू किया गया है। मां चण्डी, देवी दुर्गा की कृपा से जल्द ही पूरी मानव जाति को इस संकट से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने बताया कि यज्ञ के दौरान प्रतिदिन सुन्दर काण्ड का पाठ भी किया जाएगा। शास्त्रों में वर्णित किया गया है कि संकट से मुक्ति पाने के लिए देवी आराधना तथा सुन्दर काण्ड का पाठ करना चाहिए। यज्ञ का धुंआ वातावरण को शुद्ध करता है। सभी को घर में रहकर प्रतिदिन यज्ञ करना चाहिए। आचार्य पंडित विष्णु शर्मा ने कहा कि कोरोना संकट से मुक्ति के लिए धार्मिक अनुष्ठानों के साथ लाॅकडाऊन का पालन भी सभी करना चाहिए। लाॅकडाऊन की अवधि में घरों में ही रहे। बाहर ना निकलें। नवरात्र प्रारम्भ हो गए हैं। इसलिए प्रतिदिन घर में रहकर ही देवी की आराधना करें। परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित जलक कौशिक और सोनिया कौशिक ने कहा कि देवी की आराधना व उनकी कृपा से कोरोना संकट शीघ्र दूर होगा। परिवारों में सुख समृद्धि का वास होगा। देश पहले की तरह खुशहाल होगा। इस अवसर पर राहुल वशिष्ठ, सूरज, हरिओम आदि ने यज्ञ में आहुति दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *