उत्तराखंड में ओपिनियन पोल के नतीजों को लेकर हलचल

देहरादून । चुनाव आयोग ने उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। उत्तराखंड को पांच साल के कार्यकाल में तीन-तीन मुख्यमंत्री देने वाली भाजपा क्या दोबारा सत्ता में आएगी? या फिर पूर्व सीएम हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह की तिगड़ी की बदौलत कांग्रेस वापसी करते हुए एक बार फिर उत्तराखंड में सरकार बनाएगी।
इन सवालों काे जवाब आखिरकार 10 मार्च को मतगणना के बाद मिल ही जाएगा। फिलहाल एक ताजा ओपिनियन पोल में दोनों पार्टियों में कांटे की टक्कर दिख रही है, तो दूसरी ओर ‘आम आदमी पार्टी’ भी दोनों पार्टियों के वोट बैंक पर सेंध लगाने को भी तैयार बैठी है। उत्तराखंड के गढ़वाल-कुमाऊं के सभी 13 जिलों में 14 फरवरी को मतदान होगा। टाइम्स नाउ की ओर से किए गए ओपिनियन पोल सर्वे के नतीजे बताते हैं कि उत्तराखंड में एक बार फिर बीजेपी की ही सरकार बनेगी। भाजपा को 44-50 सीटें मिलने के आसार हैं। विपक्षी कांग्रेस की बात करें तो इसबार कांग्रेस को 12 से 15 सीटों पर ही संतुष्ट होना पड़ेगा। कर्नल अजय कोठियाल के नेतृत्व में चुनावी मैदान में उतरने वाली ‘आप’ को पांच से आठ सीटों पर ही सिमट सकती है।
ओपिनियन पोल की बात करें तो मुख्यमंत्री चेहरे पर 42.34 फीसदी वोटों के साथ पुष्कर सिंह धामी लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। युवा चेहरा होने के साथ ही ताबातोड़ घोषनाएं करने वाले धामी को एक बार फिर लोग उत्तराखंड के मुखिया के रूप में देखना चाहते हैं, जबकि 23.89 प्रतिशत के साथ कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत दूसरे नंबर पर लोगों की पसंद है और ‘आप’ के कर्नल अजय कोठियाल 14.55 फीसदी वोटों के साथ लोगों की तीसरी पसंद बने हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.