राष्ट्रीय आतंक नाशी मंच ने किया स्लाटर हाउस का विरोध, सरकार से तत्काल रद किए जाने की मांग की

रुड़की । नगर में बन रहे आधुनिक स्लाटर हाउस का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को राष्ट्रीय आतंक नाशी मंच ने नगर पालिका चौक पर पहुंचकर सभा का आयोजन किया गया। जिसके बाद प्रशासन के विरोध में नारेबाजी की। नगर पालिका द्वारा पीपी मोड़ पर एक निजी कंपनी से स्लाटर हाउस का निर्माण कराया जा रहा है। स्लाटर हाउस की बुनियाद पड़ने के साथ ही इसका विरोध भी शुरू हो गया था। कई बार भारी पैमाने पर इसका विरोध हुआ जिसके बाद सरकार ने जिलाधिकारी से भूमि अनुमोदन पर रिपोर्ट तलब की थी। कोतवाली परिसर में हुई इस बैठक में तत्कालीन ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नितिका खंडेलवाल और पुलिस क्षेत्राधिकारी मंगलौर धीरेंद्र सिंह रावत ने कोतवाली में लोगों से रायशुमारी कराई थी। पूरे मामले की वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई गई थी। लोगों का कहना है कि सभी लोगों ने इस स्लॉटर हाउस का विरोध किया था। लेकिन उसके बाद भी भूमि का अनुमोदन किया गया। उधर पालिका का यह कहना है कि वह नैनीताल उच्च न्यायालय के आदेशानुसार कार्य कर रही है। नगर पालिका को न्यायालय जिस प्रकार के भी निर्देश देता है उनका पालन किया जाएगा। बुधवार को राष्ट्रीय आतंक नाशी मंच के कार्यकर्ता शहर पुलिस चौकी के सामने नगरपालिका चौक पर जमा होना शुरू हुए वहां पर उन्होंने एक सभा की जिसमें उन्होंने नगर में बन रहे स्लाटर हाउस को अनुचित बताते हुए सरकार से उसे तत्काल रद किए जाने की मांग की। जिला अध्यक्ष अर्जुन सिंह ने कहा कि देवभूमि में किसी भी प्रकार से स्लॉटर हाउस का निर्माण नहीं होने दिया जाएगा इसके लिए कितना भी बड़ा आंदोलन करना पड़े वह करेंगे। उन्होंने जिला प्रशासन पर आरोप लगाया कि उन्होंने नियम विरुद्ध जाकर स्लाटर हाउस वाली भूमि का अनुमोदन किया जो कि गलत है रायशुमारी के समय शत प्रतिशत लोगों द्वारा स्लाटर हाउस का विरोध किया गया था उसके बाद भी भूमि का अनुमोदन किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। बाद में कार्यकर्ताओं ने प्रशासन के पुतले का दहन किया तथा सरकार से मांग करते हुए कहा कि स्लाटर हाउस को तत्काल प्रभाव से रद किया जाए अन्यथा बड़े आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। इस अवसर पर पंकज भैया, सचिन सैनी, अमित, संजीव, आलोक शर्मा, नीरज सिंघल, सुमित शर्मा, पुनीत भटनागर, अजय शर्मा आदि भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.