मोंटफोर्ट स्कूल में कला प्रदर्शनी का आयोजन, बच्चों ने उत्साह के साथ लिया भाग, दिखाया अपनी प्रतिभा का हुनर

रुड़की । मोंटफोर्ट स्कूल के के.जी. प्रांगण में नन्हें बच्चों के द्वारा कला प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का आयोजन विद्यालय के प्राचार्य ब्रदर एलबर्ट एब्राहम के द्वारा किया गया। शिक्षक व शिक्षिकाओं द्वारा। प्रार्थना गीत प्रस्तुत किए गए। प्रदर्शनी में बच्चों के द्वारा बनाई गई विभिन्न आकर्षण कला कृतियों ने सभी का मन मोह लिया। प्रदर्शनी में भारत की विभिन्न कलाएं। राजकीय का सांस्कृतिक प्रतीक चिन्ह विभिन्न प्रकार के महान भारत के विभिन्न त्योहार। कार्टून कोना रंगीन दुनिया आदि घरेलू उपाय की सामग्री से बनाकर प्रदर्शित किए गए। बच्चों ने कैंडल स्टैंड टेबल लैंप कागज के फूल मालाएं। मैंने आकर्षक वस्तुए बिंदी से विभिन्न कलाकृतियों तथा तरह-तरह की पेंटिंग बनाई गई। जिन वस्तुओं को लोग रद्दी समझकर फेंक देते हैं। उन्हीं से घरेलू उपयोग की जरूरत की वस्तुएं बनाई जा सकती है। ऐसा इन नन्हे बच्चों ने प्रदर्शित करके दिखाया। विद्यालय में आयोजित इस कला संगम में सभी नन्ने विद्यार्थियों ने उत्साह के साथ भाग लिया। अभिभावकों ने भी बच्चों की। कलाकृतियों को देखकर उन्हें प्रोत्साहित किया। विद्यालय के प्राचार्य ने सभी 9 विद्यार्थियों के द्वारा बनाई गई कलाकृतियों की सराहना की तथा संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक बच्चे के हृदय में कमल भावना होती है। इन भावनाओं को किसी भी प्राकृतिक में उकेरना एक प्रतिभा होती है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ अन्य सांस्कृतिक गतिविधियों में भी विद्यार्थियों को भाग लेना चाहिए। प्रदर्शनी कार्यक्रम से विद्यार्थियों की प्रतिभाएं सामने आती है। इससे विद्यार्थियों के सर्वागीण विकास होता है। उन्होंने प्रदर्शनी आयोजन। मैं सभी सहयोगी अध्यापक व अध्यापकों की प्रशंसा भी की। इस अवसर पर विद्यालय के उप प्राचार्य। ब्रदर बीनू चेरियन, सिस्टर संभना मैरी, सिस्टर प्रिया व विद्यालय के समन्वयक व समन्वयिकाएं सभी अध्यापक व अध्यापिका तथा अभिभावक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *