नशे को जड़ से खत्म करने के लिए समाज को पुलिस का सहयोग करना होगा: सेंथिल अबुदई कृष्णराज, अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस पर मदरहुड विश्वविद्यालय में वर्चुअल बैठक का आयोजन

भगवानपुर । देहरादून-रूड़की राजकीय राजमार्ग स्थित मदरहुड विश्वविद्यालय में आज अन्तर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के उपलक्ष्य में वर्चुअल माध्यम से आभासी बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में एस०एस०पी० हरिद्वार सेंथिल ए०के० राज मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।मुख्य अतिथि का स्वागत विश्वविद्यालय के निदेशक प्रशासन दीपक शर्मा एवं सहायक कुलसचिव विपुल शर्मा ने किया, उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि मदरहुड विश्वविद्यालय पूर्ण रूप से किसी भी प्रकार के नशे से मुक्त हैं तथा इसके लिए उन्होंने विश्वविद्यालय के कर्मचारियों तथा छात्रों को दिये जा रहे संस्कारों को श्रेय दिया। दीपक शर्मा ने बताया कि विश्वविद्यालय समय-समय पर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग एवं राज्य सरकार द्वारा इस सम्बन्ध में निर्देशित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करता है।एस०एस०पी० हरिद्वार मुख्य अतिथि ने सम्बोधन करते हुए युवा पीढ़ि विशेषकर छात्रों में बढ़ रहे नशे की लत को लेकर अधिक चिंता व्यक्त की तथा इसको सभी पुलिस विभाग द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न अभियानों की चर्चा की तथा यह भी बताया कि किस प्रकार इस नशे के कारण समाज में अन्य कुरितियों का अभिभाव हो रहा है। इस वर्चुअल कार्यक्रम के विशेष अतिथि एस०पी० क्राइम प्रदीप राय, एस०पी० ग्रामीण प्रमेंद्र सिंह डोभाल, सी०ओ० मंगलौर पंकज गैरोला, एस०ओ० भगवानपुर पी०डी० भट्ट मौजूद रहे। इस अवसर पर थानाध्यक्ष पी०डी० भट्ट द्वारा भगवानपुर क्षेत्र पुलिस विभाग द्वारा नशे के खिलाफ चलाये जा रहे विशेष अभियानों के आँकड़ों सहित जानकारी दी तथा आने वाले समय में इन अभियानों को और तेजी से बढ़ाने पर जोर दिया। वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय के फार्मेसी संकाय के प्राचार्य ने इस वर्ष की अन्तर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस की थीम “नशा से सम्बन्धित सही जानकारी कर जीवन बचाना है” पर अपने विचार रखे तथा नशे लेने वाले व्यक्ति पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों को और भी इंगित किया। वर्चुयल कार्यक्रम का सफल संचालन डायरेक्टर डाॅ० जितेन्द्र शेखावत तथा फार्मेसी संकाय की अध्यापक श्रीमति नेहा त्यागी द्वारा किया गया। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० (डाॅ०) नरेन्द्र शर्मा ने वर्चुयल कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी सम्बन्धित का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के विभिन्न संकायों के डीन, प्राचार्य, विभागाध्यक्ष तथा छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया तथा विश्वविद्यालय को नशा मुक्त रखने के अपने प्रण को पुनः दोहराया।वर्चुयल कार्यक्रम को हजारों दर्शकों ने लाइव देखा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.